वेबसाइट में खोजें

दिल्ली में शिक्षामित्रों के हुंकार से योगी सरकार में बौखलाहट

यूपी सरकार द्वारा  शिक्षा मित्र को दस हजार रुपये मानदेय देने की घोषणा से असंतुष्ट शिक्षामित्रों ने दिल्ली के जंतर मंतर पर विशाल प्रदर्शन कर रहे है इनकी संख्या  तकरीबन सवा लाख है । शिक्षामित्रों के यहां पहुंचने से आसपास के इलाके में जाम की स्थिति बन गई। ट्रेनों और बसों से इतनी बड़ी संख्या में शिक्षामित्रों के पहुंचने से दिल्ली के पुलिस प्रशासन की हाथ पैर व सांस फूल गई। सुबह आठ बजे ही जंतर मंतर पर हजारों की भीड़ के बाद प्रशासन ने बैरीकेडिंग लगाकर जंतर मंतर के चारों तरफ की सड़कों को अवरुद्ध कर दिया। शिक्षा मित्रों में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के खिलाफ काफी आक्रोश साफ दिख रहा था। वे लखनऊ के लक्ष्मण मैदान में इससे पहले धरना दे चुके है वही राजधानी में अभी हालत ऐसी की जाम से निजात ही नही मिल पाई रही है क्योंकि यूपी के दूर-दूर इलाकों से इकट्ठा हुये  शिक्षा मित्र बसों, ट्रेनों और अन्य वाहनों से दिल्ली की ओर कूच किया और  यूपी सरकार को साफ साफ चेतावनी दिया है कि यदि हमारी बातो को यूपी ने नही मानी तो यूपी के सभी प्राथमिक  स्कूलो में ताल लग जायेगा वही शिक्षा मित्र अपनी मांगो को लेकर डटे हुए है वही योगी सरकार के लिए यूपी के शिक्षा मित्र गले की हड्डी बने हुए है योगी सरकार पूरी ओहपोह में है । जहां कभी बी.एड वाले, कभी बीटीसी वाले कभी शिक्षा मित्र,कभी अनुदेशक टीचर, कभी आंगनबाड़ी कार्यकत्री ,कभी रोजगार सेवक आदि सभी ने योगी सरकार के खिलाफ हल्ला बोल दिया है जहां अब यूपी सरकार को यह नही समझ में आ रहा है अब वह इनका क्या करे । इधर 2019 का लोक सभा चुनाव भी एक-एक दिन नजदीक आ रहा है इधर शिक्षा मित्र रोज हड़ताल किये है उनकी मांगे है उन्हे बिना टीईटी के सहायक अध्यापक बनाया है और  जो पहले पैसे जो मिलता था करीब 33 हजार वेतन उनको दिया जाय ।

दिल्ली में शिक्षामित्रों के हुंकार से योगी सरकार में बौखलाहट Rating: 4.5 Diposkan Oleh: amit gangwar

0 comments:

Post a Comment

RELATED POSTS