वेबसाइट में खोजें

Saturday, October 7, 2017

दोबारा शिक्षक बनाए जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पुर्नविचार याचिका दाखिल करने के बाद शिक्षामित्रों के लिए आज का दिन कुछ खास

Big breaking news

लखनऊ। दोबारा शिक्षक बनाए जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पुर्नविचार याचिका दाखिल करने के बाद शिक्षामित्रों के लिए आज का दिन कुछ खास रहा। कई बार की कोशिशों के बाद आज भारत के पूर्व सॉलिसिटर जनरल व वर्तमान में सुप्रीम कोर्ट के ख्‍याति प्राप्‍त वरिष्ठ अधिवक्‍ता हरीश साल्‍वे ने शिक्षामित्रों की बात सुप्रीम कोर्ट में रखने की हामी भर दी है।

इस बात की जानकारी देते हुए उत्‍तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के प्रदेश अध्‍यक्ष गाजी इमाम आला ने बताया कि हमारे संगठन के प्रदेश कोषाध्यक्ष रमेश मिश्रा व संघ के लीगल अधिवक्‍ता गौरव यादव के अथक प्रयास से शिक्षामित्रों के समायोजन पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल पुर्न विचार याचिका के संबंध में आज दिल्‍ली में मिलने के बाद हरीश साल्‍वे ने शिक्षामित्रा को न्‍याय दिलाने की बात पर अपनी सहमति दे दी है।

प्रदेश अध्‍यक्ष ने आगे कहा कि अब तक संकलित किए गए साक्ष्‍यों के आधार पर हम लोगों को विश्‍वास था कि देश की उच्‍चतम न्‍यायालय से इस बार शिक्षामित्र मायूस नहीं होंगे, लेकिन अब हरीश साल्‍वे के हामी भरने के बाद हमारा विश्‍वास और मजबूत हो गया है।

वहीं दूसरी ओर संगठन के प्रदेश उपाध्‍यक्ष सुनील भदौरिया ने कहा कि हरीश साल्वे देश के योग्‍य वकीलों में एक हैं। हम लोगों की लड़ाई को लड़ने के लिए सहमति देकर उन्‍होंने हताश व निराश हो रहे शिक्षामित्रों में भी उम्मीद की एक किरण जगा दी है कि अब हम ही जीतेंगे। साथ ही उन्‍होंने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षामित्रों के साथ लगातार सौतेला व्‍यवहार करती आ रही है।

जाने हरीश साल्‍वे के बारे में

बतातें चले कि हरीश साल्वे ने हिट एंड रन मामले में सलमान खान की पैरवी की थी। साल 2015 में जब इसी मामले में सलमान खान को कोर्ट ने पांच साल की सजा सुनाई थी। उसके बाद साल्‍वे ने अपने तर्कों के आधार पर सलमान खान को तीन घंटे के अंदर जमानत दिलवाई थी।

वहीं भारत की ओर से इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में कुलभूषण जाधव के मामले में भी हरीश साल्‍वे भारत की ओर से पक्ष रख चुके हैं। इस मामले के लिए उन्‍होंने मात्र एक रुपए फीस ली थी। इसके अलावा भी साल्वे कई हाई प्रोफाइल केस लड़ चुके हैं।

दोबारा शिक्षक बनाए जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पुर्नविचार याचिका दाखिल करने के बाद शिक्षामित्रों के लिए आज का दिन कुछ खास Rating: 4.5 Diposkan Oleh: amit gangwar

0 comments:

Post a Comment

आयुर्वेद हेल्थ टिप्स डेली

RELATED POSTS