वेबसाइट में सर्च करें

UPDATEMART वेबसाइट से फेसबुक पर जुडें

Oct 5, 2017

शिक्षामित्रों पर शिकंजा कइयों की होगी संविदा समाप्त: बीएसए ने शिक्षकों को भी दी चेतावनी

एटा: परिषदीय स्कूलों के समय में परिवर्तन होते ही विभाग ने भी निगरानी बढ़ा दी है। शिक्षामित्रों के अभी भी उपस्थित न होने जैसी मिल रही शिकायतों के बाद उनके विरुद्ध विभाग सक्रिय हो गया है तथा अनुपस्थित मिलने वालों को संविदा समाप्ति का नोटिस दिया गया है। बुधवार को बीएसए के निरीक्षण में समय से पहले ही तीन
विद्यालय बंद मिले। जिनके प्रधानाध्यापक व शिक्षकों का वेतन काटते हुए अनुपस्थित शिक्षामित्रों के मानदेय कटौती के साथ संविदा समाप्ति नोटिस जारी किए हैं। 1निरीक्षण को निकले जिला बेसिक शिक्षाधिकारी एसके तिवारी ने शीतलपुर ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय नगला रंजीत को दो बजकर 50 मिनट पर देखा तो यहां पहले से ही ताला लटका हुआ था। इससे पहले ही स्कूल बंद कर स्टाफ जा चुका था। उन्होंने प्रधानाध्यापिका सुषमा यादव का एक दिन का वेतन काटने तथा शिक्षामित्र स्नेहलता के मानदेय कटौती के साथ सेवा समाप्ति का नोटिस दिया है। जैथरा ब्लॉक के जूनियर हाईस्कूल खतूपुरा में दोपहर ढाई बजे स्कूल बंद हो चुका था। शिक्षक जाने की तैयारी कर रहे थे। 1यहां के प्रधानाध्यापक रामवीर सिंह यादव का वेतन काट सहायक अध्यापक को चेतावनी दी गई। प्राथमिक विद्यालय नगला खंगर भी 2 बजकर 35 मिनट पर बंद पाया गया। यहां प्रधानाध्यापक मनोज कुमार तथा शिक्षामित्र मनोज कुमार व सुदामानंदन गायब थे। प्रधानाध्यापक की वेतन कटौती व शिक्षामित्रों की मानदेय कटौती करते हुए उनकी सेवा समाप्ति का नोटिस जारी किया गया है। 1बीएसए ने शिक्षकों को भी चेतावनी दी कि यदि समय से पहले विद्यालय बंद मिले तो भविष्य में उन्हें निलंबित किया जाएगा।



uptet | up tet | uptet latest news | uptet news | only4uptet | primary ka master | basic shiksha parishad | basic siksha parishad | basic shiksha | shiksha mitra | shikshamitra latest news | shikshamitra news | uptet 2011 | uptet syllabus | uptet syllabus 2016 | uptetnews | uptet 2016 | uptet 2016 result | uptet result | uptet 2016 admit card | up basic shiksha parishad | shikshamitra

शिक्षामित्रों पर शिकंजा कइयों की होगी संविदा समाप्त: बीएसए ने शिक्षकों को भी दी चेतावनी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: amit gangwar

0 comments:

Post a Comment

RELATED POSTS