वेबसाइट में खोजें

Thursday, October 12, 2017

UPTET 2017: परीक्षा केन्द्र पर गड़बड़ी की तो हमेशा के लिए टीईटी से बाहर, प्रशासन ने बैठक कर जारी किए निर्देश

परीक्षा केन्द्र पर गड़बड़ी की तो हमेशा के लिए टीईटी से बाहर

- प्रशासन ने बैठक कर जारी किए निर्देश, मोबाइल फोन बैन

लखनऊ।

शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी)-2017 में जरा-सी लापरवाही अभ्यर्थियों के लिए भारी पड़ सकती है। अगर किसी भी अवाच्छित गतिविधिय में संलिप्त पाया गया तो उस अभ्यर्थी को हमेशा के लिए परीक्षा से बाहर कर दिया जाएगा। जिला प्रशासन स्तर पर बुधवार को हुई बैठक के बाद यह निर्देश जारी किए गए।

मोबाइल पूरी तरह से बैन : टीईटी-2017 का आयोजन आगामी 15 अक्तूबर को होना है। राजधानी में परीक्षा के लिए 38 केन्द्र बनाए गए हैं। जहां प्राइमरी स्तर की परीक्षा में करीब 6800 और अपर प्राइमरी स्तर पर 20,764 अभ्यर्थी शामिल होंगे। परीक्षा को लेकर बुधवार को बैठक का आयोजन किया गया।
जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ.मुकेश सिंह ने बताया कि परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों के लिए मोबाइल फोन पूरी तरह से प्रतिबंधित है। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र के साथ एक मान्य पहचान पत्र और पिछले वर्ष की मार्कशीट के साथ आना होगा। अन्यथा केन्द्र में प्रवेश नहीं मिलेगा। उन्होंने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि ने पुलिस को हिदायत दी गई है कि वह परीक्षा के दिन केन्द्र के आधा किलोमीटर के दायरे में सभी फोटो कॉपी की दुकानों को बंद कराना सुनिश्चित करें। इसके अलावा, जिला स्तर पर केन्द्र व्यवस्थापक के अतिरिक्त प्रत्येक केन्द्र में दो अधिकारी परीक्षा कराएंगे। परीक्षा कक्ष में गड़बड़ी हुई तो कक्ष निरीक्षक की जिम्मेदारी तय की जाएगी। बैठक में कमिश्नर, डीएम, संयुक्त शिक्षा निदेशक, एसएसपी, डीआईजी समेत जिले के अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

UPTET 2017: परीक्षा केन्द्र पर गड़बड़ी की तो हमेशा के लिए टीईटी से बाहर, प्रशासन ने बैठक कर जारी किए निर्देश Rating: 4.5 Diposkan Oleh: amit gangwar

0 comments:

Post a Comment

आयुर्वेद हेल्थ टिप्स: आयुर्वेद में छिपा है स्वास्थ्य का राज