वेबसाइट में खोजें

Wednesday, November 29, 2017

बोर्ड के परीक्षा केंद्रों में मानक पूरा होने की जिम्मेदारी डीआइओएस पर, अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से परखी तैयारी

इलाहाबाद : यूपी बोर्ड परीक्षा के केंद्र निर्धारण में जिन जिलों में मानक पूरे नहीं होंगे वहां के जिला विद्यालय निरीक्षकों पर कार्रवाई होगी। इसके अलावा जिन ऐसे विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है जिनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज है और डिबार हैं, उन्हें तत्काल बदलने के निर्देश हुए हैं। मंगलवार को अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा संजय अग्रवाल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश भर के डीआइओएस से मुखातिब होकर बोर्ड और शासन की मंशा से अवगत कराया। 



परीक्षा केंद्रों के मानक और परीक्षार्थियों को मिलने वाली मूलभूत सुविधाओं के संबंध में अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने जिलों से परीक्षा तैयारियों की जानकारी ली, कहा कि जहां भी परीक्षा केंद्रों के निर्धारण में परीक्षा नीति का पालन नहीं हुआ है वहां बदलाव कर नीति के बिंदु सुनिश्चित कराए जाएं। उन्होंने कहा कि जिन विद्यालयों के खिलाफ प्राथमिक दर्ज है या डिबार हैं ऐसे विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बना दिया है इनमें तत्काल बदलाव कर राजकीय इंटर कालेजों, अशासकीय स्कूलों को प्राथमिकता दी जाए। उन्होंने यह भी कहा कि परीक्षा केंद्रों में सीसीटीवी कैमरे, हवा-पानी और उजाला, साफ सफाई, फर्नीचर की सुविधा उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। 


अपर सचिव ने यह सख्त लहजे में कहा कि जिन जिलों में निर्धारित परीक्षा केंद्रों में मानक का पालन नहीं होगा वहां के डीआइओएस पर कार्रवाई होगी। कहा कि परीक्षा को किसी भी हालत में नकल विहीन और विवाद विहीन कराना सुनिश्चित किया जाए। वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान इलाहाबाद में माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव नीना श्रीवास्तव से अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा ने बात की तो प्रदेश के अन्य जिलों में डीआइओएस से जानकारी ली।



बोर्ड के परीक्षा केंद्रों में मानक पूरा होने की जिम्मेदारी डीआइओएस पर, अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से परखी तैयारी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: amit gangwar

0 comments:

Post a Comment

आयुर्वेद हेल्थ टिप्स डेली

RELATED POSTS