वेबसाइट में खोजें

Thursday, December 7, 2017

परीक्षा-2017 का परिणाम जारी होने के बाद फिर नहीं होगा संशोधन


इलाहाबाद : पीसीएस (प्रारंभिक) परीक्षा-2017 का परिणाम जारी करने से पहले उत्तर कुंजी के आधार पर मांगी गई आपत्तियों का निस्तारण भली-भांति करने का प्रयास उप्र लोक सेवा आयोग में तेज है। परिणाम के साथ ही संशोधित उत्तर कुंजी भी जारी होगी। आयोग इस कोशिश में है कि परिणाम जारी करने के बाद उसमें फिर किसी तरह का संशोधन न हो। उप्र लोक सेवा आयोग ने पीसीएस प्री. 2017 की लिखित परीक्षा 24 सितंबर को कराई थी और इसके 54 दिनों बाद वेबसाइट पर उत्तर कुंजी जारी कर अभ्यर्थियों से आपत्तियां आमंत्रित की थी। कुल आठ प्रश्नों के उत्तरों के साक्ष्यों सहित दो दर्जन से अधिक आपत्तियां आयोग में पहुंचीं। जिन पर विशेषज्ञों से परीक्षण कराया। एक-दो आपत्तियां निस्तारित होने से अभी रह गई हैं लेकिन, जिनका निस्तारण पूरी तरह से हो चुका है उनका रिवीजन भी चल रहा है ताकि संशोधित उत्तर कुंजी और परीक्षा परिणाम जारी करने के बाद फिर किसी प्रकार के संशोधन की गुंजाइश न रहे। माना जा रहा है कि आयोग शीघ्र ही परीक्षा का परिणाम घोषित करेगा। आयोग के अधिकारियों का कहना है कि अभ्यर्थियों को अधिक दिनों तक प्रतीक्षा नहीं करवाएंगे। परीक्षा व परिणाम जारी होने में अनियमितता से आयोग फिर छात्रों के निशाने पर है। आयोग ने पांच माह से रुका परिणाम जारी कर सराहना बटोरी, ऐसे में छात्रों को उम्मीद है कि पीसीएस प्री. के परिणाम भी सही लेकिन, उचित आएंगे।


परीक्षा-2017 का परिणाम जारी होने के बाद फिर नहीं होगा संशोधन Rating: 4.5 Diposkan Oleh: amit gangwar

0 comments:

Post a Comment

RELATED POSTS