04 February 2016

'नौकरी है नहीं और सरकारी रवैया डरावना': सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को लगाई फटकार

सुप्रीम कोर्ट ने बेरोजगारी से निपटने की समस्या को लेकर निर्मम रवैया अपनाने पर केंद्र सरकार को फटकार लगाई है। कोर्ट ने कहा कि जीविका का अधिकार मूलभूत अधिकार है। जस्टिस वी गोपाल और अमिताभ रॉय की बेंच ने एक केस की सुनवाई के दौरान कहा, 'एक समतावादी समाज के संवैधानिक दर्शन के नॉन-गवर्नेंस और नॉन-इम्प्लिमेंटेशन की वजह से देश में रोजगार की संभावना नदारद है। यह दर्शन सभी को सम्मानजनक जीवन का मौका देता है।'

कोर्ट ने कहा, 'बढ़ती बेरोजगारी से निपटने को लेकर सरकार का कठोर रवैया और निष्क्रियता डरावनी है। सार्वजनिक जिम्मेदारी को प्राइवेट हाथों में देकर स्थिति और बिगड़ी है। ये सरकारी नीतियों का गलत फायदा उठाते हैं।' बेंच ने कहा, 'हर कल्याणकारी राज्य की जिम्मेदारी

MDM की दैनिक आहार तालिका और उसकी कन्वर्जन कॉस्ट

क्या मरने के बाद 'जीवनसाथी' आपका ख्याल रखता है? जानिए रहस्य

फरवरी 2016 में विद्यालयों में होने वाली छुट्टीयों की सूची

TET 2011 के सर्टिफिकेट की बैधता 7 साल करवाने के सन्दर्भ में

2,030 महिला कांस्टेबल पदों पर भर्ती

शिक्षक भर्ती निरस्त कराने की मांग

हाईकोर्ट ने मांगी यूपी बोर्ड की परीक्षा केंद्र निर्धारण नीति

15000 शिक्षक भर्ती का नियुक्ति पत्र पाने का आसान रास्ता

बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा निर्धारित अवकाश तालिका वर्ष 2015-16 व शैक्षिक कैलेंडर

UPTET 2016 अक्तूबर में होगा: सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी

शिक्षकों के लिए स्थानांतरण नीति बनाने को कमेटी गठित: महिलाओं को मिल सकती है बड़ी राहत

21 मई से होंगी गर्मियों की छुट्टियां: नवीनतम कैलेंडर

UPTET 2015: टीईटी के परीक्षा केंद्रों पर भी उठी अंगुली

13 हजार शिक्षक हटे न समायोजि

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो