04 February 2016

अब प्राइमरी स्कूलों की परीक्षाओं में भी सचल दस्ता: प्राइमरी शिक्षकों को बोर्ड परीक्षा डय़ूटी से राहत

अब सरकारी प्राइमरी स्कूलों में भी परीक्षाओं के दौरान सचल दस्ता निगरानी करेगा। प्रश्नपत्र का सील्ड बण्डल परीक्षा शुरू होने के एक घण्टा पहले ही स्कूलों में पहुंचेगा। सरकारी प्राइमरी स्कूलों में परीक्षाओं की चाक-चौबंद व्यवस्था के लिए बेसिक शिक्षा विभाग के सचिव आशीष गोयल ने आदेश जारी कर दिए हैं। उन्होंने कहा,जिला स्तर पर प्रश्नपत्र जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में रखे जाएंगे। परीक्षा के तीन दिन पहले ही खण्ड शिक्षा अधिकारियों को प्रश्न पत्रों के बण्डल सौंपे जाएंगे। कुछ स्कूलों के बीच में एक स्कूल केन्द्र बनाया जाएगा और इसके प्राचार्य तक 2 दिन पहले ही प्रश्न पत्र पहुंचेंगे। इन बण्डलों को एक घण्टा पहले स्कूलों में पहुंचाना होगा। प्रश्नपत्र का बण्डल प्राचार्य, विद्यालय प्रबंध समिति के दो सदस्य व एक अध्यापक के सामने खोलेगा। परीक्षा के समय प्राचार्य व एक सहायक अध्यापक उसी स्कूल का रहेगा। जरूरत पड़ने पर आसपास के स्कूलों के शिक्षकों की डय़ूटी लगाई जाएगी। डीएम बेसिक शिक्षा विभाग समेत दूसरे विभागों के अधिकारियों के सचल दस्ते बनाए जाएंगे। ये दस्ता परीक्षा के दौरान परीक्षाओं की निगरानी करेगा। परीक्षा के दौरान विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्य निरीक्षण कर सकेंगे। शिक्षा का अधिकार एक्ट आने के बाद स्कूलों में पहली बार विधिवत परीक्षा हो रही है।

अवकाश तालिका जारी: इस वर्ष भी प्राइमरी स्कूल सुबह 9 से 3 बजे तक ही लगेंगे। सरकारी व सहायता प्राप्त प्राइमरी स्कूलों में पूरे वर्ष के 50 दिन की छुट्टियां होंगी। बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव संजय सिन्हा ने वर्ष 2016 की अवकाश तालिका जारी कर दी है। इसके अलावा डीएम दो छुट्टियां कर सकता है। गर्मी की छुट्टियां 21 मई से 30 जून तक होंगी। करवा चौथ, हरितालिका तीज आदि पर शिक्षिकाओं व छात्रओं की छुट्टी रहेगी।

प्राइमरी शिक्षकों को बोर्ड परीक्षा डय़ूटी से राहत

मुख्य सचिव आलोक रंजन ने सभी जिलाधिकारियों को भेजे निर्देश में कहा है कि प्राइमरी शिक्षकों की डय़ूटी पूरी परीक्षाओं के लिए नहीं, बल्कि जरूरी होने पर अनिवार्य विषयों की परीक्षा के दिन ही लगाई जाए। नया सत्र एक अप्रैल से शुरू होना है। इससे पूर्व प्राइमरी में पाठय़क्रम पूरा कर 14 से 21 मार्च के बीच परीक्षाएं करवानी है। इसलिए शिक्षकों की डय़ूटी तभी लगेगी जब सरकारी, सहायता प्राप्त और प्राइवेट माध्यमिक स्कूलों के सभी शिक्षकों की ड्यूटी लगा दी जाए। इस संबंध में जिला विद्यालय निरीक्षक प्रमाणपत्र देंगे कि ऐसे सभी स्कूलों के शिक्षकों की डय़ूटी लगाई जा चुकी है और शिक्षक कम पड़ रहे हैं। जरूरी होने पर प्राइमरी शिक्षकों की डय़ूटी लगाई जा सकती है लेकिन ये केवल अनिवार्य विषयों के दौरान होगी, न कि पूरी परीक्षाओं के दौरान। वहीं केवल 2 शिक्षक वाले स्कूलों के शिक्षकों की ड्यूटी नहीं लगाई जाएगी। प्राइमरी शिक्षकों की डय़ूटी के लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी से प्रस्ताव भी लिया जाएगा।


2,030 महिला कांस्टेबल पदों पर भर्ती

शिक्षक भर्ती निरस्त कराने की मांग

हाईकोर्ट ने मांगी यूपी बोर्ड की परीक्षा केंद्र निर्धारण नीति

15000 शिक्षक भर्ती का नियुक्ति पत्र पाने का आसान रास्ता

बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा निर्धारित अवकाश तालिका वर्ष 2015-16 व शैक्षिक कैलेंडर

UPTET 2016 अक्तूबर में होगा: सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी

शिक्षकों के लिए स्थानांतरण नीति बनाने को कमेटी गठित: महिलाओं को मिल सकती है बड़ी राहत

21 मई से होंगी गर्मियों की छुट्टियां: नवीनतम कैलेंडर

UPTET 2015: टीईटी के परीक्षा केंद्रों पर भी उठी अंगुली

13 हजार शिक्षक हटे न समायोजित

72825 में नियुक्ति पाने के लिए चले अनशन की राह: प्राथमिक स्कूलों में 12091 अभ्यर्थियों को नियुक्त करने का मामला

कलेक्ट्रेट पर गरजे जिले भर के बेसिक शिक्षक

प्राथमिक शिक्षकों की नौकरी पर लटकी तलवार: सुप्रीम कोर्ट में इलाहाबाद हाई कोर्ट की खंडपीठ का आदेश निरस्त

72825 Kasganj cutoff: प्रशिक्षु चयन 2011 के लिए जारी कासगंज की नवीं अनन्तिम मेरिट कटऑफ

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो