Friday, December 29, 2017

पशुधन विभाग में भर्ती में धांधली का बड़ा मामला आया सामने, आरोपियों की बढ़ीं मुश्किलें, एसआइटी ने जांच शुरू


लखनऊ: सपा शासन में जल निगम में हुए भर्ती घोटाले की तरह पशुधन विभाग में भी भर्ती में धांधली का बड़ा मामला सामने आया है। हाईकोर्ट के आदेश पर शासन ने वर्ष 2014 में पशुधन प्रसार अधिकारियों की भर्ती में धांधली की जांच विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) को सौंपी है। एसआइटी ने पशुधन विभाग के 17 मंडलों के तत्कालीन अपर निदेशक ग्रेड-टू स्तर के अधिकारियों को बयान दर्ज कराने के लिए नोटिस जारी की है। भर्ती के मूल दस्तावेज भी तलब किए गए हैं। डीजी एसआइटी आलोक प्रसाद ने बताया कि विशेष टीम गठित कर जांच कराई जा रही है।1वर्ष 2014 में पशुधन विभाग में 1198 पदों पर पशुधन प्रसार अधिकारियों की भर्ती होनी थी। भर्ती परीक्षा में लाखों अभ्यर्थी बैठे थे। इनमें 1005 चयनित अभ्यर्थियों को प्रशिक्षण के बाद पशुधन प्रसार अधिकारी के पद पर ज्वाइन कराया गया था। इस बीच कई परीक्षार्थियों ने नियमावली दरकिनार कर भर्तियां किए जाने का आरोप लगाया था। 34 परीक्षार्थियों ने इसे लेकर हाईकोर्ट में याचिका भी दाखिल की थी। परीक्षा में साक्षात्कार के 20 अंक थे। बाद में ऑनलाइन आवेदन किए जाने थे। आरोप था कि कई अभ्यर्थियों के आवेदन पशुधन विभाग में सीधे भी लिए गए थे। कई अभ्यर्थियों को तो बिना लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित हुए ही साक्षात्कार के लिए पत्र भेजे जाने के गंभीर आरोप भी लगे थे। शासन ने 20 दिसंबर को जांच एसआइटी से कराने का निर्देश दिया था। एसआइटी ने जांच शुरू कर दी है।

पशुधन विभाग में भर्ती में धांधली का बड़ा मामला आया सामने, आरोपियों की बढ़ीं मुश्किलें, एसआइटी ने जांच शुरू Rating: 4.5 Diposkan Oleh: AMIT GANGWAR

शिक्षक भर्ती लिखित परीक्षा हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो