12.1.18

सीबीएसई एग्जाम में पेपरों में कम गैप होने से छात्र परेशान

नई दिल्ली/लखनऊ : सीबीएसई बोर्ड एग्जाम की डेटशीट आने के साथ ही तमाम विद्यार्थी तनाव में आ गए हैं। ह्यूमैनिटीज के कई स्टूडेंट्स की शिकायत है कि उनके पेपरों के बीच पर्याप्त गैप नहीं है। साइकॉलजी का पेपर
5 अप्रैल को है तो पॉलिटिकल साइंस का अगले ही दिन है। वे विद्यार्थी और परेशान हैं, जिनके पास लीगल स्टडीज भी है। इसी तरह से इतिहास का पेपर 20 मार्च को है तो 21 मार्च को मैथ्स का पेपर है। 12वीं का इंग्लिश का पेपर 5 मार्च को है तो फिजिक्स का पेपर 7 मार्च को है। हालांकि काफी ऐसे भी हैं, जो एग्जाम जल्द खत्म होने की बात से खुश हैं।
लखनऊ में स्कूलों के प्रिंसिपलों का कहना है कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के लिए यह बेहतर है। डीपीएस एल्डिको की प्रिंसिपल दीप्ति द्विवेदी ने बताया कि गैप ज्यादा होने से बच्चे बोर्ड परीक्षा में ही फंसे रहते हैं। ऐसे में वे दूसरी परीक्षाओं की तैयारी नहीं कर पाते। द मिलेनियम स्कूल की प्रिंसिपल मंजुला गोस्वामी ने बताया कि रेग्युलर क्लास करने वालों को ज्यादा गैप की जरूरत नहीं होती।


सीबीएसई एग्जाम में पेपरों में कम गैप होने से छात्र परेशान Rating: 4.5 Diposkan Oleh: AMIT GANGWAR

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो