17.2.18

एई और जेई के रिजल्ट पर आयोग से फिर लगा ब्रेक

इलाहाबाद : राज्य अभियंत्रण सेवा परीक्षा 2013 के अभ्यर्थियों को उप्र लोकसेवा आयोग से एक बार फिर निराशा हाथ लगी है। करीब डेढ़ साल से परिणाम का इंतजार कर रहे एई और जेई पद के हजारों अभ्यर्थियों को आयोग से मिले लिखित आश्वासन के मुताबिक 15 फरवरी तक परिणाम आ जाने की पूरी उम्मीद थी लेकिन, आयोग ने
अभ्यर्थियों से और मोहलत मांगी है।1आयोग ने राज्य अभियंत्रण सेवा परीक्षा 2013, अप्रैल 2016 में कराई थी। इसमें सहायक अभियंता के 952 पदों पर भर्ती के लिए करीब सात हजार और जूनियर इंजीनियर के 3222 पदों पर भर्ती के लिए करीब 13 हजार अभ्यर्थियों ने आवेदन कर परीक्षा दी थी। पिछले वर्ष ही आयोग की परीक्षा नियंत्रक से बात कर अधिकारियों ने अभ्यर्थियों को आश्वास्त किया था नवंबर या दिसंबर माह में रिजल्ट जारी करेंगे लेकिन, ऐसा नहीं हो सका। गुस्साए अभ्यर्थियों ने आयोग का घेराव किया तो अधिकारियों ने लिखित रूप से आश्वासन दिया कि सहायक अभियंता पद का परिणाम 15 फरवरी तक जारी कर दिया जाएगा और अवर अभियंता का परिणाम अप्रैल माह तक दिया जाएगा। शुक्रवार को अभ्यर्थी आनंद कुमार और धर्मेद्र कुमार ने आयोग पहुंचकर इसकी जानकारी चाही तो उन्हें बताया गया कि सीबीआइ जांच के चलते परीक्षा संबंधी कार्यो में कुछ व्यवधान उत्पन्न हुआ। इसलिए परिणाम तैयार नहीं हो सका है। आश्वासन दिया गया कि शीघ्र ही परिणाम जारी किया जाएगा।
पीसीएस 2018 का सिलेबस तैयार : उप्र लोकसेवा आयोग ने सम्मिलित राज्य/ प्रवर अधीनस्थ सेवा 2018 का पाठ्यक्रम तैयार कर लिया है। इस परीक्षा की अधिसूचना नए पाठ्यक्रम के आधार पर जारी होगी। यह आश्वासन शुक्रवार को आयोग के सचिव जगदीश ने प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति के प्रतियोगियों को दिया। सचिव ने बताया कि पीसीएस 2018 की परीक्षा यूपीएससी के पैटर्न पर कराई जाएगी।

एई और जेई के रिजल्ट पर आयोग से फिर लगा ब्रेक Rating: 4.5 Diposkan Oleh: AMIT GANGWAR

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो