19.2.18

खराब रिजल्ट वाले शिक्षण संस्थानों पर होगी कार्रवाई - डिप्टी सीएम केशव मौर्य का बयान

फतेहपुर : प्रदेश के उप मुख्यमंत्री (डिप्टी सीएम) केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि बोर्ड परीक्षा की शुचिता के लिए प्रभावी कदम उठाए गए हैं। सरकार ने शिक्षण संस्थानों को गुणवत्तापरक शिक्षा के साथ किसी प्रकार की कोताही न बरतने के निर्देश पहले ही दे रखे हैं। यदि किसी शिक्षण संस्थान का परिणाम खराब हुआ तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई तय है। खराब रिजल्ट के संदर्भ में सरकार यह मानेगी कि संबंधित शिक्षण संस्थानों द्वारा विद्यार्थियों को सही शैक्षिक माहौल नहीं दिया गया। 

शहर के तुरावली के पुरवा में रविवार को एक शादी समारोह के कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए सूबे के डिप्टी सीएम मौर्य कुछ पल के लिए लोक निर्माण विभाग के डाक बंगले में रुके। जहां पर पत्रकारों से बोले कि विद्यालयों में शैक्षिक माहौल बने इसके लिए हर प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं। मौजूदा समय में परीक्षा का दौर चल रहा है। बोर्ड परीक्षा सहित अन्य परीक्षा परिणाम जल्द ही आने वाले हैं इसके बाद शासन स्तर से समीक्षा की जाएगी। स्कूलों में आने वाले बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा दी जाए इसके लिए सरकार ने मंशा जाहिर कर रखी है। प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था पर बोले कि सख्त कानून का अनुपालन हो रहा है। जिसके चलते अपराधियों में कानून का भय पैदा हो गया है।

खराब रिजल्ट वाले शिक्षण संस्थानों पर होगी कार्रवाई - डिप्टी सीएम केशव मौर्य का बयान Rating: 4.5 Diposkan Oleh: AMIT GANGWAR

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो