May 17, 2018

डीएलएड 2018 की वेबसाइट फेल विभाग व अभ्यर्थियों में हलचल, न ही पंजीकरण और न जमा हो पा रहा शुल्क


इलाहाबाद : डीएलएड यानि पूर्व बीटीसी 2018 में प्रवेश की वेबसाइट फेल हो गई है। कई दिन से आवेदन व शुल्क जमा नहीं हो पा रहा है, जबकि पंजीकरण आसानी से हो रहा है। इससे विभागीय अधिकारी व अभ्यर्थी दोनों परेशान हैं। वेबसाइट फेल होने की वजह अहम बदलाव बताए जा रहे हैं। आवेदन की अंतिम तारीख भी करीब है इससे सभी की धड़कनें बढ़ी हैं और अंतिम तारीख बढ़ने की भी उम्मीद है।
डीएलएड 2018 सत्र के लिए प्रवेश की वेबसाइट बीते 11 मई से किसी तरह से शुरू हो सकी। इसे दोपहर बाद ही शुरू होना था लेकिन, पहले दिन ही तकनीकी खराबी से पंजीकरण शाम से शुरू हो पाया। इसके बाद अभ्यर्थी निरंतर पंजीकरण कराते चले गए, इसीलिए रजिस्ट्रेशन की संख्या 19 हजार से ऊपर हो गई है लेकिन, आवेदन का फार्म और शुल्क जमा नहीं हो पा रहा है। तमाम जिलों से शिकायतें आने के बाद वेबसाइट अभी सही से काम नहीं कर रही है। इससे विभाग में हलचल है। वहीं, प्रवेश के इच्छुक अभ्यर्थी भी अंतिम तारीख 23 मई करीब आने से परेशान हैं। बताते हैं कि इस बार दिल्ली में इसकी वेबसाइट तैयार की गई, ताकि अभ्यर्थियों को परेशानी न हो। पहले पंजीकरण, आवेदन व शुल्क अलग-अलग जमा होता था पर इस बार से आवेदन व शुल्क एक साथ जमा करने का इंतजाम हुआ है। साथ ही हर अभ्यर्थी को आवेदन करने के समय ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) दिए जाना था। इसके अलावा ऑनलाइन आवेदन में संशोधन का मौका भी खत्म कर दिया गया है। इन बदलावों के कारण ही वेबसाइट संचालन में परेशानी हो रही है।
चार विभागों की अहम बैठक आज : डीएलएड की वेबसाइट फेल होने का आरोप विभाग एक-दूसरे पर लगा रहे हैं। कोई नतीजा न निकलने पर परीक्षा नियामक प्राधिकारी की पहल पर गुरुवार को चार विभागों एनआइसी, यूपी डेस्को, बैंक व परीक्षा नियामक कार्यालय के तकनीकी स्टाफ की लखनऊ में बैठक हो रही है। जिसमें इस पर मंथन होगा कि आखिर समस्या कहां से हैं। एनआइसी का कहना है कि बैंक का शुल्क जमा करने में ही अभ्यर्थी परेशान हैं। समस्या दूर करने के बाद आवेदन की तारीख भी बढ़ना लगभग तय है।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो