🔎Search Me

May 1, 2018

कॉलेज शिक्षकों को पीएचडी जरूरी, यूजीसी न्यूनतम मानकों को लेकर जल्द जारी करेगा अधिसूचना

नई दिल्ली |  आने वाले समय में डिग्री कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में एसोसिएट प्रोफेसर बनने के लिए पीएचडी करना जरूरी हो जाएगा। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी यूजीसी उच्च शिक्षा संस्थानों में शिक्षकों के लिए नई न्यूनतम योग्यता मानकों को लेकर जल्द ही अधिसूचना जारी करने जा रहा है।

यूजीसी ने शिक्षकों और अन्य शैक्षणिक स्टॉफ की नियुक्ति के लिए न्यूनतम योग्यता का नया ड्राफ्ट बीते फरवरी महीने में जारी किया था। इसमें असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए तो राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) को ही न्यूनतम योग्यता निर्धारित किया गया है, लेकिन पहली बार एसोसिएट प्रोफेसर बनने के लिए पीएचडी को अनिवार्य करने का प्रावधान किया गया है। ड्राफ्ट के मुताबिक, एसोसिएट प्रोफेसर के लिए न्यूनतम आठ वर्षों का शैक्षिणक अनुभव, यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त जर्नल्स में कम से कम सात लेख के अलावा पीएचडी अनिवार्य होगा। अब तक सिर्फ प्रोफेसर बनने के लिए पीएचडी अनिवार्य थी। 

यूजीसी सूत्रों के मुताबिक, इस ड्राफ्ट पर कई सुझाव यूजीसी को मिले हैं, जिस पर विचार किया जा रहा है। जल्द ही शिक्षकों और अन्य शैक्षणिक स्टॉफ की नियुक्ति के लिए न्यूनतम योग्यता से जुड़ी नई अधिसूचना जारी कर दी जाएगी।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो