🔎Search Me

20 May 2018

अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति की जांच अब सभी जिलों में होगी, सरकार ने जिलाधिकारियों से जांच कर मांगी रिपोर्ट


लखनऊ : प्रदेश सरकार अब सभी जिलों में अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति की जांच कराने जा रही है। जांच कराने का निर्णय अमरोहा व संभल में छात्रवृत्ति घोटाला सामने आने के बाद किया गया है। सरकार ने जिलाधिकारियों से जांच कर रिपोर्ट भेजने के लिए कहा है।
साथ ही निदेशालय के अफसर भी छात्रवृत्ति से जुड़े कागजों को खंगालने में जुट गए हैं। दरअसल, सबसे ज्यादा घपला केंद्र सरकार की पोस्ट मैटिक स्कॉलरशिप में हो रहा है। हाल ही में अमरोहा व संभल में कई फर्जी संस्थान मिले थे। इन संस्थानों ने नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर विभागीय अफसरों की मिलीभगत से पंजीकृत कर लिया था। फर्जी तरीके से यह छात्रवृत्ति का पैसा हड़प रहे थे। मामला खुलने के बाद सरकार ने इनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराते हुए इन संस्थानों को काली सूची में डाल दिया था।
इसी को देखते हुए अब प्रदेश सरकार दूसरे जिलों में भी जांच कराने जा रही है। सरकार को अंदेशा है कि इस तरह के मामले प्रदेश के दूसरे जिलों में भी हो सकते हैं।



प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो