28 July 2018

एलटी ग्रेड परीक्षा: यूपी समेत अन्य राज्यों के साल्वर गिरोह का जुटने लगा है ब्योरा


इलाहाबाद : एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा निगरानी की शासन से मंजूरी मिलते ही एसटीएफ टीमें पूरे प्रदेश में सक्रिय हो गई हैं। यूपी, राजस्थान, मध्य प्रदेश समेत अन्य राज्यों में पहले पकड़े जा चुके सॉल्वर गिरोह तथा उनके संपर्क में रहने वाले उन लोगों की गतिविधियों की निगरानी शुरू हो गई है जो प्रतियोगी परीक्षाएं देकर चयनित हुए और विभिन्न विभागों में अपने सेवाएं दे रहे हैं। परीक्षा से ऐन पहले लॉज और अन्य संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी की तैयारी है।1यूपी पीएससी (उप्र लोकसेवा आयोग) की ओर से 29 जुलाई को प्रदेश के 39 जिलों के 1760 परीक्षा केंद्रों पर होने जा रही सहायक अध्यापक (प्रशिक्षित स्नातक) परीक्षा की सभी तैयारी पूरी हो चुकी है। इसमें नकल और अन्य गड़बड़ी की आशंका है। इसीलिए यूपी पीएससी ने शासन को प्रस्ताव भेजा और परीक्षा नकल विहीन कराने के लिए शासन ने एसटीएफ की मंजूरी भी दी है। आइजी एसटीएफ अमिताभ यश और एसएसपी एसटीएफ से मिले दिशा निर्देशों के बाद टीमों ने पुराने गिरोहों की गतिविधियों का पता लगाना शुरू कर दिया है। लखनऊ, मेरठ, झांसी, इलाहाबाद, आगरा, अलीगढ़, आजमगढ़, हरदोई समेत अन्य अहम जिलों में नकल की अधिक संभावना को देखते हुए एसटीएफ की टीमें सतर्क हैं। एसटीएफ की आधा दर्जन टीमें परीक्षा जिलों में भेजी गई हैं और स्थानीय टीमों का सहयोग लेकर होटलों व लॉज में छापेमारी की तैयारी है। सूत्रों के अनुसार एसटीएफ ने उप्र लोकसेवा आयोग और इसके आसपास अपने सूचना तंत्र को सक्रिय कर दिया है। यहीं से परीक्षा में गड़बड़ी की संभावना अधिक है। यूपी पीएससी से परीक्षा केंद्रों की सूची लेकर एसटीएफ ने उसके आसपास भी सूचना तंत्र को सक्रिय कर दिया है।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो