🔎Search Me

Jul 21, 2018

अब सभी जिलों में परिषदीय शिक्षकों की फर्जी नियुक्तियों की होगी जांच, फर्जी और अनियमित नियुक्तियों की जांच का बढ़ा दायरा


लखनऊ : प्रदेश के विभिन्न जिलों से आ रहीं शिकायतों को देखते हुए शासन ने अब सभी जिलों में परिषदीय शिक्षकों की फर्जी नियुक्तियों की जांच कराने का फैसला किया है। सूबे के सात जिलों में शिक्षकों की फर्जी नियुक्तियों की जांच कराने का गुरुवार को आदेश देने के बाद अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डॉ.प्रभात कुमार ने प्रदेश के बाकी 68 जिलों में भी अनियमित तरीके से की गईं नियुक्तियों की जांच कराने का शासनादेश शुक्रवार को जारी कर दिया है। 1प्रदेश के शेष 68 जिलों के जिलाधिकारियों को जारी किये गए आदेश में वर्ष 2010 के बाद की गईं फर्जी/अनियमित नियुक्तियों की जांच कराने का निर्देश दिया गया है। फर्जी नियुक्तियों की जांच के लिए प्रत्येक जिले में अपर जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय समिति गठित की गई है जिसमें अपर पुलिस अधीक्षक और सहायक मंडलीय शिक्षा निदेशक (बेसिक) को सदस्य बनाया गया है। 1जिलाधिकारी अपनी निगरानी में यह जांच कराएंगे जिसकी नियमित समीक्षा अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा करेंगे।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो