Jul 14, 2018

बीटीसी पहुंचा ICU में, बीटीसी प्रशिक्षुओं ने बीएड के खिलाफ खोला मोर्चा, NCTE का निकाला जनाजा, आदेश वापस लेने को प्रदर्शन कर DM को सौंपा ज्ञापन

आल बीटीसी वेलफेयर एसोसिएशन उ०प्र० के बैनर तले लखीमपुर खीरी जिले के बीटीसी और डीएलएड प्रशिक्षुओं ने  माननीय प्रधानमंत्री व कैबिनेट मंत्री मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार को संबोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी को सौंपा।*    
                     और
विलोबी मैदान से डीएम कार्यालय तक एक विरोध प्रदर्शन रैली जिसमे NCTE का जनाज़ा निकाला गया ।*

*जिला अध्यक्ष शुभम वर्मा*  ने कहा कि हम सभी बीटीसी व डीएलएड प्रशिक्षु हैं, दिनांक 29-06-2018 को राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एन .सी .टी. ई) के द्वारा प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति के 2010 की अधिसूचना में संशोधन  करके एक अध्यादेश पारित किया  जिसके अनुसार बीएड योग्यता वाले अभ्यर्थी भी प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति होने की अर्हता रखते हैं। इस प्रकार हम सभी बीटीसी अभ्यार्थियों के साथ पूर्णतयः अन्याय हो रहा है हम लोगो की योग्यता केवल प्राथमिक शिक्षकों के रूप में नियुक्ति तक है,जबकि बीएड अभ्यर्थियों की योग्यता इंटरमीडिएट तक है।जब बीटीसी वाले प्रशिक्षुओं की संख्या  5 लाख से ज्यादा है तो फिर प्राथमिक  शिक्षक नियुक्ति में बीएड को क्यों लाया जा रहा है?
*बीटीसी प्रशिक्षुओ ने कहा कि NCTE के इस आदेश से बीटीसी ICU में पहुँच गया है,और  हम सभी के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। एन सी .टी .ई अपना आदेश वापस ले।और पहले की गाइड लाइन को यथावत रखे।*
ज्ञापन में अंकित पटेल,अवधकिशोर,
प्रशांत,विनीत,उमाशंकर,अर्पित मिश्रा, मो. राशिद,प्रज्ज्वल,मोहित,पुरषोत्तम,,शिवेंद्र,
,रामजी वर्मा व जिले के समस्त कॉलेज के बीटीसी व डीएलएड प्रशिक्षु उपस्थित रहे।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो