Sep 1, 2018

41556 शिक्षक भर्ती पर आगे की रणनीति: प्रतीक गुप्ता की जुबानी

अपर मुख्य सचिव से लेकर विशेष सचिव , सचिव बेसिक शिक्षा परिषद् , निदेशक सर सबने हमेशा यहीं बोला की 41556 सफल अभ्यर्थियों का चयन सुनिश्चित है और उनसे ये प्रश्न एक बार नही हजार बार पूछा की सर चयन कैसे होगा और सबका कैसे होगा तो बस एक ही उत्तर रहता था कि हम सबका कर रहे है और जब अधिकारियों द्वारा ये उत्तर दिया जाता था तब मैं कभी अकेला नही रहता था मेरे साथ सभी सामान्य वर्ग के कम मेरिट वाले साथी साथ रहते थे। हमेशा सर से बोला गया की 68500 पदों पर रिजर्वेशन लगाएं।

अधिकारी जो बात बोलते थे वो बताया जाता था और साथ में खड़े सभी साथी ये फेसबुक पर लिखते भी थे सबका चयन होगा, प्रभात सर खुद ट्वीट करके जानकारी देते थे , हमेशा हमारे सभी साथी सर से निवेदन करते थे कि सर हर एक अभ्यर्थी का चयन होना चाहिए।

कुछ लोग जातिवाद मेरे साथ भी खेल रहे है  मैं सामान्य हूँ या ओबीसी तो मेरे जानने वाले सब जानते है कि मैं ओबीसी केटेगरी से हूँ और जब कोई पूछता था तो जरूर बताता था कि मैं ओबीसी केटेगरी से हूँ, अब मैं क्या फेसबुक पर खुद ये लिखता रहूँ की मैं ओबीसी हूँ और मैं जब तक भर्ती के लिए काम करता रहा तब तक अच्छा था आज मेरा चयन हो गया तो मैं गलत हो गया। आप सबको बता दू आज 103 नंबर लाकर 70.5 मेरिट पर सामान्य वर्ग में मेरा चयन सूचि में सीतापुर में नाम आया है, रिजर्वेशन का फायदा मिलता तो लखनऊ या उन्नाव में चयन सूची में नाम होता।

कल सबसे पहले जैसे ही लिस्ट आयी और मुझे पता चला की 6000 संख्या में साथी बाहर हो गए, मैं सबसे पहले अकेले सचिवालय भाग कर गया की आखिर ये कैसे हो गया और उसकी पोस्ट भी डाली लेकिन जो मेरे विरोधी है आज सिर्फ मुझको नीचा गिराने के लिए उल्टा सीधा लिख रहें है।

कल को जब सब अच्छा हो रहा था तो मेरी तारीफ थी, आज सरकार ने गलत कर दिया तो मुझ पे विरोधी आरोप लगाने लगे।

यहाँ किसी अभ्यर्थी की गलती नही , गलती है तो सिर्फ सिन्हा सर की जो उन्होंने इस तरह सूची बनायी।

कृपया कर के मैं बड़ा स्पष्ट प्रकार का इंसान हूँ , मुझे ये गलत राजनीति में मत घसीटें , न मैं किसी का विरोध करता हूँ और न मुझे ये पसंद।

पियूष पाण्डेय भाई की अपील जिसमे सरकार 68500 पदों पर आरक्षण लगाएं उस अपील में मैं खुद रहा हूँ और मेरा सहयोग भी हुआ,  एक दिन मैंने पोस्ट भी लिखी थी सरकार हमको नही बता रही की कैसे चयन करेंगे तो आओ कोर्ट में आकर बताएं तो उस दिन सब मुझे कहने लगें की तुम खुद भर्ती फंसा रहे हो आखिर कुछ भी करो उस पर ही कमेंट।

मेरे सब विरोधियो को आज ये मौका मिल गया की इसका चयन हो गया है तो सिर्फ इसी को घसीटो और अपने को किनारें कर लो , एक बात बताइये सभी तो बोलते थे की सबका चयन होगा। मैं किसी के खिलाफ अपशब्द नही बोलता आपको मुझे गिराना ही है तो बेशक़ गिराएं।

मैं हमेशा 41556 लोगो के साथ खड़ा हूँ, आज सीतापुर जनपद किन्ही कारणों वश मेरी काउंसलिंग नही हो पायी। कल चयन सूचि में नाम होने के बाद भी 1% मुझे ख़ुशी नही हुई क्योंकि सभी मेरे साथी अंतिम समय में चयन से बाहर हो गए।

आज लगातार सभी साथियों से सम्पर्क में रहा और प्राप्त सूचना के अनुसार निदेशक सर द्वारा ये आश्वासन दिया जा रहा की 3 सितम्बर तक सभी बचें हुए 6000 साथियों को जिला आंवटन हो जाएगा और 3 की शाम को प्रभात सर से वार्ता के लिए भी बोला गया है।
हमें अब सरकार पर कोई भरोसा नही करना है जब तक सूची जारी नही हो जाती सब SCERT OFFICE में बैठें, मैं भी कल जल्द से जल्द काउंसलिंग करा कर सीधे SCERT आऊँगा।

विरोधियों का काम है मेरे को लेकर अफवाह उड़ाना बिल्कुल उड़ाए बस इतना कहूँगा इतना द्वेष न पालों की सब कुछ खत्म हो जाएं और बिना जानकारी किये किसी के ऊपर आरोप प्रत्यारोप का खेल न खेलें।

धन्यवाद
प्रतीक गुप्ता

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो