Sep 12, 2018

असिस्टेंट प्रोफेसर चयन के लिए 534 पदों पर परीक्षा बड़ी चुनौती


इलाहाबाद : यूपीएचईएससी यानि उच्चतर शिक्षा सेवा चयन आयोग की ओर से के लिए 2016 में घोषित विज्ञापन संख्या 47 और पिछले दिनों 534 पदों के घोषित नए अधियाचन पर परीक्षा आसपास कराने की बड़ी समस्या है। यूपीएचईएससी के सामने बजट सीमित होने और छोटी परीक्षा के लिए भी बड़े इंतजाम करने की चुनौती है। फिलहाल इस पर विचार हो रहा है कि 534 पदों के अधियाचन पर परीक्षा 2019 के सत्र में कराई जाए।
अशासकीय महाविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर चयन के लिए विज्ञापन 47 के तहत 1150 पदों पर लिखित परीक्षा नवंबर में कराने की तैयारी है। 2016 में ही इसके आवेदन लिए जा चुके हैं। पिछले दिनों यूपीएचईएससी ने 534 नए पदों पर भी परीक्षा जल्द कराने के प्रस्ताव पर मीटिंग में निर्णय लिया। हालांकि इस अधियाचन पर अभी विज्ञापन संख्या तय नहीं हो सकी है। यूपीएचईएससी के सूत्रों का कहना है कि पिछले दिनों घोषित नए अधियाचन में पदों की संख्या बेहद कम है और परीक्षा के लिए व्यवस्थाएं पूरी करनी पड़ेंगी। यूपीएचईएससी का बजट भी काफी कम है ऐसे में दोनों परीक्षाएं आसपास ही कराने पर विचार हो सकता है। लेकिन, यूपीएचईएससी ने इस संभावना को खारिज कर दिया है।1सचिव वंदना त्रिपाठी ने कहा कि विधिक रूप से यह संभव नहीं है। विज्ञापन 47 के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों के लिए आवेदन दो साल पहले ही लिए जा चुके हैं। नए पद अभी घोषित हुए हैं।
दोनों परीक्षाएं इसी साल कराने से 2019 का सत्र खाली चला जाएगा। हालांकि उन्होंने कहा कि कम पदों पर परीक्षाएं कराने में भी व्यवस्थाएं पूरी करनी पड़ेंगी, फिर भी इस चुनौती से निपटने की रणनीति बनाई जाएगी।


प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो