Sep 12, 2018

68500 शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों ने बीजेपी नेताओं को घेरा, बेसिक शिक्षा मंत्री आवास के बाहर डाला डेरा

जागरण संवाददाता, लखनऊ : सहायक बेसिक शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों का राजधानी में विरोध जारी है। अभ्यर्थी मंगलवार सुबह मुख्यमंत्री के जनता दरबार में फरियाद करने पहुंचे, मगर पुलिस ने उन्हें वापस कर दिया। ऐसे में लौटकर अभ्यर्थियों ने बीजेपी नेताओं का घेराव किया।

अभ्यर्थी सहायक शिक्षक भर्ती के 68, 500 पदों पर जारी परिणाम में न्यूनतम अर्हता 33 एवं 30 फीसद करने की मांग कर रहे हैं। इसके लिए वह 21 मई के शासनादेश का हवाला दे रहे हैं। कई दिन से प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों की सुनवाई न होने पर वह सुबह साढ़े आठ बजे सीएम आवास पहुंचे। सरिता, संजय, धर्मेद्र, आरती के मुताबिक जनता दरबार में मुख्यमंत्री से फरियाद करने पहुंचे सभी लोगों को पुलिस ने वापस कर दिया। ऐसे में अभ्यर्थियों में आक्रोश और बढ़ गया।

बेसिक शिक्षा मंत्री के घर के सामने डाला डेरा : मुख्यमंत्री से मुलाकात न होने पर अभ्यर्थियों ने सीएम आवास से बेसिक शिक्षा मंत्री के आवास की ओर कूच कर दिया। ऐसे में पुलिस प्रशासन भी अलर्ट हो गया। साढ़े नौ बजे मंत्री के आवास के पास पहुंचे अभ्यर्थियों को 20 मीटर पहले रोक दिया गया। अभ्यर्थियों व पुलिस में नोकझोंक हुई। ऐसे में अभ्यर्थियों ने सड़क किनारे डेरा डाल दिया। यह शाम तक डटे रहे और नारेबाजी की।

नेताओं के वाहन रोके : सड़क किनारे प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों को जब बीजेपी पार्टी का झंडा लगाए वाहन आते दिखे तो सभी ने सड़क पर पहुंचकर वाहनों को रोक लिया। इनमें विधायक कुशीनगर जटाशंकर त्रिपाठी व पूर्व विधायक नरेंद्र सिंह का होना बताया गया। अभ्यर्थियों ने बीजेपी नेताओं को ज्ञापन देकर समस्या के निस्तारण की मांग की।’

>>सहायक बेसिक शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों की पुलिस से नोकझोंक

>>बेसिक शिक्षा मंत्री आवास के बाहर डाला डेरा

बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल के घर जाने से रोकने पर दिलकुशा कालोनी में सड़क के किनारे बैठे अभ्यर्थियों से ज्ञापन लेने पहुंचे एसडीएम

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो