Sep 15, 2018

खंड शिक्षा अधिकारी की डांट से शिक्षिका हुई बेहोश, हालत गंभीर: महिला अध्यापकों के हस्ताक्षर विवाद को सुलझाने गए थे बीईओ और एनपीआरसी, निजी अस्पताल में भर्ती


लखीमपुर : बिजुआ ब्लॉक में तैनात प्राइमरी स्कूल में महिला प्रधान अध्यापक की उस वक्त हालात बिगड़ गई जब यहां एक विवाद निपटाने आए ब्लॉक के बीईओ व एनपीआरसी से उनकी कहासुनी तेज हो गई। बताया जाता है कि बीईओ की फटकार के दौरान ही महिला प्रधान अध्यापक दरख्ता बेगम बेहोश हो गईं, उनको दिल का दौरा पड़ गया है। उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां वह खबर लिखे जाने तक बेहोश थीं। बिजुआ ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय खेती पुरवा में तैनात प्रधान अध्यापक दरख्ता बेगम के स्कूल में का गुरुवार को यहीं पर तैनात महिला अध्यापक प्रीति सिंह और पूर्णिमा पांडे के बीच हस्ताक्षर करने लेकर कहासुनी हुई थी। जिसकी सूचना खुद प्रधानाध्यापक ने अपने बीईओ को दी, जिस पर शुक्रवार को बीईओ संजय राय व एनपीआरसी अमित शुक्ला इस मामले को सुलझाने के लिए स्कूल में पहुंचे थे। इसी बीच वहां बात बिगड़ गई बीईओ पर आरोप है कि उन्होंने महिला प्रधान अध्यापक की एक न सुनी और उल्टा ही उस पर बरसने लगे। यह सदमा दरख्ता बर्दाश्त नहीं कर पाईं और स्कूल में ही बिेहोश हो गईं। घटना की सूचना उसके पति को दी गई और वह उसे अपने साथ ले आए और लखीमपुर के हाईवे हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया। यहां उसका इलाज जारी है, लेकिन प्रधानाध्यापिका को अभी होश नहीं आया है। 1बीईओ संजय राय का कहना है कि मैंने मर्यादा के दायरे में बातचीत की थी। डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि यह प्रकरण गंभीर है। निष्पक्ष जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो