Sep 27, 2018

TGT-PGT परीक्षा पर चयन बोर्ड मौन, अभ्यर्थी कर रहे ‘मौन’ सत्याग्रह


इलाहाबाद : माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र कार्यालय के सामने अनूठा आंदोलन शुरू हुआ है। प्रवक्ता व स्नातक शिक्षक 2016 की लिखित परीक्षा पर चयन बोर्ड मौन है, इसके जवाब में अभ्यर्थी ‘मौन’ सत्याग्रह कर रहे हैं। अभ्यर्थियों का कहना है कि मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव भर्तियों में तेजी लाने का निर्देश दे रहे हैं तो दो साल बाद भी परीक्षा की तारीख आखिर तय क्यों नहीं हो रही है। जब तक इस मुद्दे पर चयन बोर्ड अपना मौन नहीं तोड़ेगा, तब तक सत्याग्रह जारी रहेगा।
अशासकीय माध्यमिक कालेजों में नियुक्तियों को लेकर माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड कार्यालय के सामने मंगलवार से आंदोलन शुरू हुआ है। प्रतियोगी मोर्चा की अगुवाई में अभ्यर्थी मौन क्रमिक अनशन कर रहे हैं और सभी छह सूत्रीय मांगों को पूरा कराने पर अड़े हैं। चयन बोर्ड अध्यक्ष बीरेश कुमार से अभ्यर्थियों की वार्ता विफल हो चुकी है और आंदोलन जारी रखने का एलान हुआ है।
चयन बोर्ड अध्यक्ष ने प्रतियोगी मोर्चा से वार्ता के लिए प्रतिनिधिमंडल बुलाया। अध्यक्ष ने कहा कि साक्षात्कार में अधिकतम व न्यूनतम अंक देने का मानक लागू नहीं हो सकता है, क्योंकि यह नियमावली में नहीं है। चयनित हो चुके अभ्यर्थियों का समायोजन जल्द ही किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जीव विज्ञान विषय के अभ्यर्थियों के लिए गठित समिति की रिपोर्ट आने पर उसे शामिल किया जाएगा।


प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो