Sep 30, 2018

UPTET: सर्वर क्रैश होने से टीईटी के दो लाख से अधिक फॉर्म फंसे, परेशान अभ्यर्थी काट रहे PNP के चक्कर, नहीं हो रहा कोई समाधान, समस्या यथावत रही तो बढ़ सकती है आवेदन की तारीख


इलाहाबाद : यूपी-टीईटी 2018 के करीब दो लाख फॉर्म फंस गए हैं। पिछले छह दिनों से वेबसाइट क्रैश होने के कारण कई प्रयासों के बाद भी अभ्यर्थी आवेदन फॉर्म नहीं भर पा रहे हैं। अभ्यर्थियों के खाते से कई-कई बार फीस का रुपया कट चुका है लेकिन फॉर्म सबमिट नहीं हो रहा। इसके साथ ही प्रिंट भी नहीं निकल रहा, जिससे अभ्यर्थी परेशान हैं। इसे लेकर अभ्यर्थी लगातार पीएनपी पहुंच रहे हैं और हंगामा भी कर रहे हैं। हालांकि स्थिति में सुधार नहीं हो सका है। बताया जा रहा है कि अगर अगले दो तीन दिनों तक यही हाल रहा तो पंजीकरण और फॉर्म सबमिट करने की तारीख बढ़ानी पड़ सकती है।
परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय के अनुसार पांच लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने अब तक रजिस्ट्रेशन करवाया है। लेकिन बमुश्किल सवा दो लाख फॉर्म ही अंतिम रूप से जमा हो सके हैं। ऐसे में करीब ढाई लाख अभ्यर्थी ऐसे हैं, जो ऑनलाइन आवेदन पत्र पूरा नहीं कर सके हैं। तकनीकी विशेषज्ञों की मानें तो स्टेट डेटा सेंटर का सर्वर और एनआईसी की वेबसाइट ओवरलोड होने के कारण क्रैश हो गई है। इसे लेकर लगातार आ रही शिकायतों के बाद बात शासन स्तर तक पहुंची है और बताते हैं कि शनिवार को भी एनआईसी में इस खामी को दुरुस्त करने के लिए काम होता रहा।


प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो