🔎Search

Oct 20, 2018

स्व0 नारायण दत्त तिवारी भूतपूर्व मुख्यमंत्री उ0प्र0 एवं उत्तराखण्ड के निधन पर 20 व 21 अक्टूबर को राजकीय शोक मनाये जाने के संबंध में आदेश जारी

लखनऊ (जेएनएन)। पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के निधन पर प्रदेश में 20 और 21 अक्टूबर को राजकीय शोक घोषित किये जाने के कारण इन दोनों दिन प्रदेश में सरकारी कार्यालय बंद रहेंगे। 21 अक्टूबर को रविवार होने के कारण सरकारी दफ्तरों में सार्वजनिक अवकाश होता है। लिहाजा सप्ताह में छह दिन खुलने वाले कार्यालय शनिवार को बंद रहेंगे। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के दिग्गज नेता स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी का पार्थिव शरीर शनिवार को लखनऊ लाया जाएगा। 93 वर्ष की उम्र में शुक्रवार को दिल्ली के एक हॉस्पिटल उनका निधन हो गया था। एनडी तिवारी का कल ही जन्मदिन भी था। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे।
👉 सरकारी शिक्षण संस्थाएं बंद रहेंगी
राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि राजकीय शोक की अवधि में सरकारी कार्यालयों में अवकाश रहेगा तथा राजकीय कार्यालयों व भवनों पर फहराया जाने वाला राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा। इस अवधि के दौरान कोई भी राजकीय समारोह आयोजित नहीं किया जाएगा। इस संबंध में प्रदेश के सभी मंडलायुक्तों व जिलाधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिये गए हैं। अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि शनिवार को बैंक खुले रहेंगे। वहीं सरकारी शिक्षण संस्थाएं बंद रहेंगी।

👉 21अक्टूबर को अन्त्येष्टि
देश की राजनीति में अपनी अलग पहचान रखने वाले दिग्गज नेता एनडी तिवारी का पार्थिव शरीर कल विशेष विमान से लखनऊ लाया जाएगा। कल विधान भवन में अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर रखा जाएगा। वह उत्तर प्रदेश के तीन बार तथा उत्तराखंड के एक बार मुख्यमंत्री रहे थे। कल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति विधान भवन में एनडी तिवारी के पार्थिव शरीर पर श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। इसके बाद कल शाम को ही तिवारी का पार्थिव शरीर पंतनगर, उत्तराखंड ले जाया जाएगा। जहां लोग उनका अंतिम दर्शन कर श्रद्धांजलि अर्पित कर सकेंगे। इसके बाद 21 अक्टूबर को उनकी अन्त्येष्टि क्रिया सम्पन्न होगी।
👉 https://www.jagran.com/uttar-pradesh/lucknow-city-death-of-nd-tiwari-is-state-grief-for-uttar-pradesh-18550514.html

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो