🔎Search Me

06 October 2018

प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में पढ़ाई व निरीक्षण के लिए 35 जिलों में ‘ईक्षा’ एप का इस्तेमाल नहीं, प्रयोग कम करने वाले यह हैं जिले


बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में पढ़ाई व निरीक्षण के लिए विभाग ने इस बार खास मोबाइल एप तैयार कराया है लेकिन, शिक्षक व अधिकारी आदेश मानने को ही तैयार नहीं है। इसीलिए प्रदेश के करीब आधे जिलों में निरीक्षण के समय मोबाइल एप का प्रयोग नहीं किया जा रहा है या फिर उसका इस्तेमाल बेहद कम है। 1शिक्षा निदेशक बेसिक डा. सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह ने एक अगस्त को ही बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिया था कि सह समन्वयकों के माध्यम से विद्यालयों में पढ़ाई का अनुश्रवण कराया जाए।

 इस दौरान ‘ईक्षा’ मोबाइल एप के जरिये कक्षाओं का अवलोकन हो। सितंबर की रिपोर्ट का शिक्षा निदेशक ने विश्लेषण किया तो पाया कि मोबाइल एप का प्रयोग कक्षाओं की निगरानी में या तो नहीं किया जा रहा है या फिर उसका प्रयोग महज 25 फीसद ही है और कुछ जिलों में यह आंकड़ा शून्य है।
डा. सिंह ने ऐसे जिलों को चिह्न्ति करके वहां के बीएसए से पूछा है कि उनके जिले में सह समन्वयकों का मोबाइल एप का प्रयोग इतना कम क्यों है? साथ ही निर्देश दिया है कि कक्षावलोकन में इस एप का शत -प्रतिशत प्रयोग किया जाए और सह समन्वयकों के कार्य दायित्व का मासिक मूल्यांकन भी इसके प्रयोग के आधार पर ही किया जाए।


प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो