Oct 31, 2018

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मिले राज्य कर्मचारी का दर्जा: मुख्यमंत्री ने दिया आश्वासन


 लखनऊ : राज्य कर्मचारी का दर्जा देने और ठेकेदारी प्रथा समाप्त करने समेत कई मांगों को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को ईको गार्डन में रैली आयोजित कर आवाज बुलंद की।
भारतीय मजदूर संघ के आह्वान पर आयोजित धरने में प्रदेश भर से जुटीं कार्यकर्ताओं ने सरकार से न्यूनतम मजदूरी 18 हजार प्रतिमाह करने की मांग की। कार्यकर्ताओं ने कहा कि कई बार आश्वासन के बावजूद कर्मचारियों को राज्य कर्मचारी का दर्जा नहीं दिया जा रहा है।
ठेके पर कार्यरत मजदूरों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और आशा बहुओं की संयुक्त रैली में संघ के राष्ट्रीय महामंत्री विरजेश उपाध्याय ने कहा कि उद्योगपतियों के दबाव में सरकार श्रम कानूनों से छेड़छाड़ कर रही है। संघ के क्षेत्रीय संगठन मंत्री पवन कुमार ने कहाकि ठेकेदारी प्रथा का अंत करके आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को राज्य कर्मचारी का दर्जा जब तक नहीं मिलेगा तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा। संघ की ओर से मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन में न्यूनतम मजदूरी 18000 करने समेत कई मांग की गई है।
मुख्यमंत्री ने दिया आश्वासन
रैली के बाद भारतीय मजदूर संघ के पदाधिकारियों ने मांगों को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात की। संघ के क्षेत्रीय संगठन मंत्री पवन कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री ने न्यूनतम वेतन तथा समान कार्य पर समान वेतन सहित अन्य मांगों का परीक्षण कराने का आश्वासन दिया है।


प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो