🔎Search

Oct 7, 2018

UPTET 2018: टीईटी को लेकर शासन का अहम फैसला, आवेदन में दिक्कत के बाद टीईटी की वेबसाइट बदली, पुराने आवेदन और पंजीकरण बरकरार


इलाहाबाद : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपी टीईटी 2018 के लिए ऑनलाइन पंजीकरण व आवेदन की वेबसाइट एनआइसी ने आखिरकार बदल दी है। इधर, दो दिन से पंजीकरण ताबड़तोड़ हुए लेकिन, आवेदन व परीक्षा शुल्क जमा करने में बहुत परेशानी हो रही थी। एनआइसी ने टीईटी के लिए अब नया यूनीफार्म रिसोर्स लोकेटर यानी यूआरएल जारी किया है। अफसरों का दावा है कि https://upbasiceduboard.gov.in/ इस पर आवेदन होने व परीक्षा शुल्क जमा होने की गति काफी तेज हो जाएगी। वहीं, सीधे परीक्षा शुल्क जमा करने के लिए इस https://upbasiceduboard.gov.in/hdf/payFee.aspx वेबसाइट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।1टीईटी के लिए आवेदन 17 सितंबर से चल रहे हैं। बीच में आवेदन व पंजीकरण का सर्वर आठ दिन तक बंद रहा। बीते मंगलवार शाम से किसी तरह एनआइसी ने उसे संचालित जरूर किया लेकिन, आवेदन करने व परीक्षा शुल्क जमा करने में दिक्कत बरकरार रही।

दो दिन से फिर सर्वर बेहद धीमा हो गया था। इसीलिए पंजीकरण का आकड़ा बढ़कर 21 लाख तक पहुंच गया लेकिन, फाइनल आवेदन सिर्फ सवा सात ही हो सके हैं। शनिवार को दिन भर में जहां करीब 75 हजार नए पंजीकरण हुए, वहीं आवेदन महज 25 हजार ही हो पाए हैं। अफसरों का दावा है कि अब नई वेबसाइट से प्रक्रिया काफी तेज हो जाएगी। इधर, शासन ने पंजीकरण व आवेदन की समय सीमा तीन दिन बढ़ाई थी लेकिन, सर्वर के धीमे होने से आवेदन की संख्या पंजीकरण की अपेक्षा एक तिहाई ही रह गई थी। ऐसे में यह मियाद भी काफी कम लग रही थी। इसीलिए शनिवार को पूरे दिन शिक्षा विभाग के बड़े अफसर एनआइसी में डटे रहे और समस्या का हर संभव हल तलाशते रहे। शाम को वेबसाइट बदलने का निर्णय लिया है।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो