Nov 5, 2018

10768 एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती में स्कैनिंग पूरी, त्रुटि सुधार प्रक्रिया अधूरी


प्रयागराज : 2018, की सभी उत्तर पुस्तिकाओं (ओएमआर) की स्कैनिंग हो जाने के बाद अब आवेदनों में त्रुटियां सुधार की प्रक्रिया शेष है। इसके लिए उप्र लोक सेवा आयोग यानी यूपीपीएससी में प्राप्त प्रत्यावेदनों पर निर्णय अध्यक्ष और सदस्यों की बैठक में होना है, जबकि सदस्यों की नियुक्ति न होने के चलते गलतियों में सुधार की प्रक्रिया रुकी है। नवंबर में भर्ती परिणाम जारी करने की तैयारी करके बैठे यूपीपीएससी के लिए यही प्रक्रिया ब्रेकर बन रही है।
यूपीपीएससी को 29 जुलाई को प्रदेश में की लिखित परीक्षा कराने के बाद और इससे पहले भी ढेरों प्रत्यावेदन प्राप्त हुए थे। इसमें अभ्यर्थियों ने आवेदन में गलती होने का हवाला देते हुए उसमें सुधार का मौका देने की मांग की थी। उत्तर पुस्तिकाओं की स्कैनिंग के जरिये मूल्यांकन होने और आवेदनों की गलतियों को ठीक करने के बाद ही परिणाम जारी होंगे। इससे पहले भी यूपीपीएससी ने तमाम अन्य परीक्षाओं में आवेदनों की त्रुटियों में मानवीय आधार पर निर्णय लेते हुए सुधार किया है। हालांकि इस कार्यवाही से पहले चेयरमैन और सदस्यों की बैठक में निर्णय भी आवश्यक है। यूपीपीएससी के विश्वसनीय सूत्रों का कहना है कि एक हजार से अधिक प्रत्यावेदन हैं, इनमें तमाम तो परीक्षा होने के पहले ही प्राप्त हुए थे, जबकि यूपीपीएससी ने सभी को औपबंधिक रूप से परीक्षा में शामिल किया है। अब जबकि नवंबर में ही परिणाम जारी होने की संभावना है और इसके लिए सदस्यों का इंतजार किया जा रहा है ऐसे में आवेदनों की गड़बड़ी ठीक करने की कार्यवाही थमी होने से देरी भी हो सकती है। इस संबंध में सचिव जगदीश का कहना है कि सदस्यों के आने पर फिलहाल पहले से लंबित दो बड़ी परीक्षाओं के परिणाम जारी होने हैं उसके बाद एलटी ग्रेड के परिणाम पर विचार होगा। हालांकि इससे पहले समिति की बैठक में आवेदनों की गड़बड़ी ठीक होने या न होने पर निर्णय ले लिया जाएगा।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो