11 November 2018

यूपी टीईटी 2018 की परीक्षा में लगभग 3 लाख अभ्यर्थी नहीं दे पायेंगे अपना एग्जाम

दरअसल यूपी टीईटी 2018 में 68500 और 12460 भर्ती में चयनित शिक्षकों के दस्तावेज बीएसए कार्यालय में जमा है। जबकि यूपी टीईटी 2010 8 में शामिल होने के लिए प्रशिक्षण योग्यता का मूल प्रमाण पत्र भी इस साल दिखाना होगा। जबकि चयनित प्राथमिक स्कूलों के प्राथमिक शिक्षकों को उच्च प्राथमिक स्कूलों में प्रमोशन के यूपी टीईटी पास की योग्यता भी चाहिए इसलिए बड़ी तादाद में कहे या कुल मिलाकर कहे तो करीब 2 लाख नवनियुक्त शिक्षकों ने यूपी टीईटी 2018 का फार्म भरा है। जबकि करीब 50 हजार लोगो का आवेदन रद्द हो गया है।

वहीं उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा या यूपी-टीईटी 2018 की परीक्षा 18 नवंबर दिन रविवार को 10 बजे सुबह से 12.30 बजे दोपहर तक प्राथमिक स्तर की यूपी टीईटी परीक्षा और 2.30 से 5 बजे तक उच्च प्राथमिक स्तर की टीईटी की परीक्षा आयोजित होगी। 

इस साल ओएम आर सीट में ओवरराइटिंग कटिंग पर कापी नहीं चेक की जायेगी। यूपी टीईटी परीक्षा 2018 की ओएमआर शीट का मूल्यांकन इस साल एक विशेष स्कैनर से किया जाएगा। लिहाजा इस साल ओएम आर में ओवरराइटिंग या गोले पर कोई अन्य निशान बनाने पर या सफेदा लगाने पर ओएम आर का मूल्यांकन नहीं होगा।इस बारे पहले स्पष्ट निर्देश दे दिये गये है ।

🔎न्यूज़ खोजने के लिए यहाँ टाइप करें

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो