🔎Search Me

26 November 2018

एक प्रांगण में स्थित परिषदीय विद्यालयों के एकीकरण प्रक्रिया के सम्बंध में आवश्यक सूचना




विद्यालय एकीकरण प्रक्रिया के सम्बंध में आवश्यक सूचना:-

1-दोनों स्कूल मिलाकर एक कंपोजिट स्कूल बनेगा।

2-जूनियर का प्रधानाध्यापक कंपोजिट स्कूल का प्रधानाध्यापक होगा।

या

जूनियर के प्रधानाध्यापक के न होने पर जूनियर के वरिष्ठ सहायक को ही कंपोजिट स्कूल के प्रधानाध्यापक की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी जाएगी।

3-नये प्रधानाध्यापक पर ही कंपोजिट स्कूल का प्रशासनिक व वित्तीय अधिकार होंगा।


4-प्राथमिक और जूनियर को मिलाकर जो छात्र संख्या बनेगी उस आधार पर 40 पर एक शिक्षक रहेगा। बाकी के प्राथमिक के अतिरिक्त शिक्षकों को बन्द प्राथमिक स्कूलों में भेजा जाएगा और जूनियर के शिक्षकों को प्राथमिक और जूनियर दोनो की कक्षाओं की जबाबदेही सौपीं जाएगी।

4-दोनो SMC खत्म कर केवल एक SMC जूनियर के पूर्व प्रधानाध्यापक के द्वारा गठित की जाएगी।

5-जूनियर में उसके विषय का शिक्षक मौजूद होने के कारण प्राथमिक का प्रधानाध्यापक प्राइमरी में रहकर शिक्षण करेगा।

6-कंपोजिट स्कूल को एक स्कूल मानते हुए विकास अनुदान व रंगाई पुताई की धनराशि दी जाएगी।

7-अगले वर्ष कंपोजिट स्कूल की टोटल छात्र संख्या के हिसाब से समायोजन किया जायेगा तथा जूनियर  के सहायक से प्राथमिक व जूनियर दोनो की कक्षाये पढ़वाई जाएंगी।
primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो