🔎Search Me

16 November 2018

PCS मेंस 2016 को समीक्षा में होना होगा पास, परिणाम देने से पहले विवाद के हर एक बिन्दुओं की होगी पड़ताल


PCS मेंस 2016 को समीक्षा में होना होगा पास, परिणाम देने से पहले विवाद के हर एक बिन्दुओं की होगी पड़ताल प्रयागराज : पीसीएस मेंस 2016 का परिणाम यूपीपीएससी की ओर से तैयार होने के बावजूद इसे अभी नए सदस्यों की समीक्षा में पास होना पड़ेगा क्योंकि यह परीक्षा और इसका परिणाम सीबीआइ जांच के दायरे में है। मुख्य परीक्षा में प्रश्न पत्र लीक के गंभीर आरोप और एक जाति विशेष के अभ्यर्थियों को गड़बड़ी कर परीक्षा में शामिल कराने की लिखित रूप से शिकायत सीबीआइ से की गई है। इसे जारी करने का अनुमोदन देने से पहले सदस्यों की ओर से परिणाम की निष्पक्षता की जांच की जा सकती है। ऐसे में नवंबर में परिणाम दे पाना यूपीपीएससी के लिए मुश्किल है।

उप्र लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) से पांच साल के दौरान हुई भर्तियों की जांच का सीबीआइ ने जो नोटिफिकेशन जारी किया था उसमें पीसीएस 2016 की प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा को भी जांच के दायरे में रखा गया है। प्रारंभिक परीक्षा में प्रश्नों व उत्तर विकल्प में गड़बड़ी के चलते यह मामला अभी शीर्ष कोर्ट में विचाराधीन है। इस बीच भर्तियों की सीबीआइ जांच शुरू होने पर मार्च 2018 में अभ्यर्थियों ने शिकायतें की हैं कि पीसीएस 2016 की मुख्य परीक्षा में कई ऐसे अभ्यर्थियों को गलत तरीके से शामिल किया गया है जिन्होंने यूपीपीएससी की ओर से प्रारंभिक परीक्षा के बाद निर्धारित शर्ते पूरी नहीं की। कई लोगों के बैक डेट में आवेदन भरवाए गए। शिकायती पत्र में ऐसे अभ्यर्थियों के नाम तक दिए गए हैं। इन विवादों के बावजूद यूपीपीएससी ने पीसीएस मेंस 2016 का परिणाम तैयार किया है जिसे नए सदस्यों के अनुमोदन के बाद जारी होना है। नियुक्त छह नए सदस्यों को इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थियों के साक्षात्कार लेने हैं ऐसे में किसी विवाद में फंसने से बचने के लिए परिणाम के हर एक बिंदुओं की समीक्षा भी होनी तय है। यूपीपीएससी की नीतियों को समझने में कुछ दिन लग सकते हैं ऐसे में परिणाम नवंबर में आने के आसार फिलहाल कम हैं।


प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो