🔎Search Me

16 November 2018

UPTET EXAM 2018: यूपी टीईटी परीक्षा कराने हेतु शासन की तैयारियों पर एक नजर

UPTET 2018: उत्तर प्रदेश पात्रता परीक्षा आगामी 18 नवंबर को आयोजित की जाएगी।  इसके लिए सभी तैयारियां तकरीबन पूरी हो चुकी हैं। परीक्षा देने से पहले आपको ये 10 बातें पता होनी चाहिए। यहां जानिए यूपी टीईटी परीक्षा से जुड़ी 10 बातें:

1.बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापकों के 95 हजार से अधिक पदों पर प्रस्तावित नियुक्ति से पहले हो रहे टीईटी को लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है। परीक्षा कराने के लिए प्रशासन और शिक्षा विभाग की ओर से मजिस्ट्रेट और पर्यवेक्षक तैनात किए जाएंगे।

2.नकल विहीन परीक्षा कराने के निर्देश दिए हैं कि परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थियों के साथ-साथ कक्ष निरीक्षक और अन्य किसी भी कर्मचारी को मोबाइल, नोटबुक या अन्य कोई यांत्रिक या इलेक्ट्रानिक डिवाइस ले जाने की अनुमति नहीं है।

3.18 नवंबर को प्रस्तावित टीईटी में उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा का समय आधा घंटा बढ़ा दिया गया है। अभ्यर्थियों की मांग पर विशेष सचिव शासन चन्द्रशेखर ने मंगलवार को संशोधन संबंधी आदेश जारी किया। अब उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा 2:30 से 5 बजे की बजाय 3 से 5:30 बजे तक होगी। पहले उच्च प्राथमिक स्तर का टीईटी 2:30 से 5 बजे तक होना था। प्राथमिक स्तर की परीक्षा में परिवर्तन नहीं किया गया है। वह पूर्व निर्धारित समय 10 से 12:30 बजे तक होगी।

4.यूपीटीईटी की ओएमआर शीट पर ओवरराइटिंग या कटिंग करने पर कॉपी नहीं जंचेगी। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण ने साफ किया है कि ओएमआर शीट का मूल्यांकन स्कैनर से किया जाएगा। लिहाजा ओवरराइटिंग, कटिंग या एक से अधिक गोला काला करने, किसी गोले को पूरा काला नहीं करने, गोले पर कोई अन्य निशान बनाने पर या सफेदा लगाने पर मूल्यांकन नहीं होगा।

5.18 नवंबर को होने जा रही शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी-2018) में सफेदा(व्हाइटनर) लगाया तो उत्तर पत्रक के रूप में मिली ओएमआर शीट नहीं जांची जाएगी। यानि सफेदा लगाने की एक गलती पूरी मेहनत पर पानी फेर देगी। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी की ओर से जारी निर्देश में लिखा है कि ओएमआर शीट पर अशुद्ध लिखने के बाद सफेदा (करेक्टिव फ्लुइड या व्हाइटनर) का प्रयोग कभी न करें। ऐसा होने पर ओएमआर शीट निरस्त कर दी जाएगी। ताकि किसी प्रकार का विवाद न होने पाए।

6.उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी)-2018 में अभ्यर्थी प्रमाण पत्र की प्रमाणित फोटोकॉपी देखकर भी केन्द्र में प्रवेश कर सकेंगे। प्रमाण पत्र के साथ अभ्यर्थियों को अपना प्रवेश पत्र, फोटो आईडी भी लाना अनिवार्य होगा। अभ्यर्थी को प्रवेश पत्र में अंकित फोटोयुक्त आईडी एवं प्रशिक्षण प्रमाण पत्र किसी भी सेमेस्टर के अंक पत्र की प्रति संबंधित प्रशिक्षण संस्था के रजिस्ट्रार द्वारा इंटरनेट से प्राप्त अंक पत्र की प्रमाणित प्रति देखकर ही प्रवेश दिया जाएगा। जिस अभ्यर्थी के पास ये दस्तावेज नहीं होंगे, उन्हें परीक्षा में नहीं बैठने दिया जाएगा।

7.परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने कंट्रोल रूम गठित किया है। जिसका नंबर-0532-2466761, 2466769 है। परीक्षा के दौरान केंद्र व्यवस्थापकों को इस पर रिपोर्ट देनी होगी।

8.परीक्षार्थी प्रश्न-पुस्तिका के मुख्यपृष्ठ एवं ओएमआर शीट पर रजिस्ट्रेशन नंबर, अनुक्रमांक, केंद्र का नाम, प्रश्न पुस्तिका सीरीज, भाषा विकल्प, विज्ञान, गणित/सामाजिक विषय एवं अन्य विषय का विकल्प आदि (जो उत्तर-पत्रक में प्रिंट हो) को भरेगा।

9.यदि प्रश्न पुस्तिका त्रुटिपूर्ण है तो अभ्यर्थी इसकी सूचना कक्ष निरीक्षक को देगा। कक्ष निरीक्षक त्रुटिपूर्ण प्रश्न पुस्तिका के बदले उसी सीरीज की नयी पुस्तिका देंगे।

10. 18 को परीक्षा के बाद 20 नवंबर को दोपहर में वेबसाइट पर उत्तरमाला जारी होगी। उत्तरमाला पर 23 नवंबर शाम छह बजे तक आपत्ति ली जाएगी ।उत्तरमाला अपडेट करते हुए 30 नवंबर को दोबारा वेबसाइट पर जारी करेंगे।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो