🔎Search Me

15 November 2018

UPTET केन्द्रों पर हर पाली का स्टेटिक मजिस्ट्रेट अलग, साथ ही शिक्षक भर्ती के नवनियुक्त को परीक्षा में शामिल होने बीएसए देंगे प्रमाणपत्र: देखें अपर मुख्य सचिव की वीडियो कॉन्फ्रेंस के दिशा-निर्देश


UPTET केन्द्रों पर हर पाली का स्टेटिक मजिस्ट्रेट अलग, साथ ही 68500 शिक्षक भर्ती के नवनियुक्त को परीक्षा में शामिल होने बीएसए देंगे प्रमाणपत्र: देखें अपर मुख्य सचिव की वीडियो कॉन्फ्रेंस के दिशा-निर्देश
 प्रयागराज : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपी टीईटी 2018 को लेकर शासन बेहद सतर्क है। इसीलिए सभी जिलों को संवेदनशील श्रेणी में रखा गया है। परीक्षा संस्था से लेकर मंडल व जिला स्तर के जवाबदेह अफसरों को सकुशल व शांतिपूर्ण परीक्षा कराने के कड़े निर्देश जारी किए गए हैं। प्रश्नपत्र, ओएमआर शीट व परीक्षा केंद्रों की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। पेपर आउट और ‘मुन्ना भाइयों’ को रोकने के लिए एसटीएफ व विजिलेंस तक सक्रिय है।

लखनऊ में बुधवार को बेसिक शिक्षा के अपर मुख्य सचिव डा. प्रभात कुमार वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मंडल व जिला स्तरीय अफसरों से सीधे रूबरू हुए। उन्होंने निर्देश दिया कि किसी स्तर पर कोई चूक नहीं होनी चाहिए, यदि कोई परेशानी है तो स्पष्ट रूप से कहें और परीक्षा लेकर जो निर्देश जारी हुए हैं उनका पालन सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा कि प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए हर केंद्र पर अलग स्टेटिक मजिस्ट्रेट की तैनाती होनी है, ताकि परीक्षा की शुचिता कायम रहे। जिले के कोषागार से मजिस्ट्रेट व डीआइओएस की निगरानी में प्रश्नपत्र निकाले जाएंगे और उन्हीं के सामने केंद्रों पर खोले जाएंगे। इसकी वीडियोग्राफी होगी और उनके प्रमाणपत्र पर हस्ताक्षर भी लिए जाएंगे। केंद्रों पर प्रश्नपत्र व उत्तर पुस्तिकाएं पहुंचाने के लिए पुलिस स्कॉर्ट का इंतजाम रहेगा। सभी अफसरों ने डा. कुमार को आश्वस्त किया कि सारे इंतजाम पूरे हो गए हैं। मुजफ्फर नगर के डीएम ने सवाल किया कि परीक्षा केंद्र पर बीटीसी व डीएलएड में से किसका अंक व प्रमाणपत्र मान्य होगा। उन्हें बताया गया कि बीटीसी के ही अंक व प्रमाणपत्र मान्य होंगे, क्योंकि डीएलएड में एक सेमेस्टर की ही परीक्षा हुई है। यहां बेसिक शिक्षा सचिव मनीषा त्रिघाटिया, परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी आदि मौजूद रहे।

बीएसए प्रशिक्षु शिक्षकों को दें प्रमाणपत्र : वीडियो कांफ्रेंसिंग में परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने सभी जिलों के बीएसए से कहा कि उनके यहां 68500 सहायक अध्यापक भर्ती के प्रशिक्षु शिक्षक भी इस परीक्षा में शामिल होने के इच्छुक हैं, उनके शैक्षिक व प्रशिक्षण के प्रमाणपत्र बीएसए कार्यालयों में हैं, इसलिए वे प्रशिक्षु शिक्षकों को इस आशय का प्रमाणपत्र जारी करें ताकि वह परीक्षा में शामिल हो जाएं। बलिया, फैजाबाद व अमेठी आदि जिलों के प्रशिक्षु शिक्षकों ने पिछले दिनों इसकी शिकायत की थी कि उन्हें बीएसए प्रमाणपत्र नहीं दे रहे हैं।


प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो