09 December 2018

महिला खण्ड शिक्षा अधिकारी से अभद्रता करने वाले शिक्षक पर केस दर्ज, शिक्षक के समर्थन में जुटे शिक्षक संगठन


बाराबंकीः सिरौली गौसपुर की खंड शिक्षा अधिकारी शालिनी गुप्ता से अभद्रता करने वाले शिक्षक के खिलाफ शनिवार को बदोसराय पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है।

बीईओ ने प्राइमरी स्कूल किशुनदासपुर के शिक्षक आशुतोष पर छेड़छाड़, सरकारी कार्य में बाधा व जान से मारने की धमकी देकर मारपीट का आरोप लगाया है। शनिवार रात ही डीएम उदयभानु त्रिपाठी के कड़े रूख पर इस शिक्षक को निलंबित भी कर दिया गया था। बीईओ के अनुसार आशुतोष कुमार पर वित्तीय अनियिमितता की शिकायत थी। इस पर वह तीन दिसम्बर को निरीक्षण के लिए संबंधित स्कूल में गई थी।वहां पर शिक्षक व प्रभारी हेडमास्टर आशुतोष गैरहाजिर थे। इस पर उन्होंने मौके की विडियो बनाई। आधा घंटा बाद शिक्षक आशुतोष कुमार स्कूल पहुंचे और जांच में अवरोध करते हुए हाथ पकड़कर अभद्रता की। यहीं नहीं जान से मारने की धमकी भी दी। मामले में बीईओ ने एसडीएम व पुलिस से शिकायत की पर कार्रवाई नहीं हुई। इधर, शनिवार की देर शाम डीएम की ओर से बुलाई गई स्वच्छ भारत मिशन की बैठक में यह मामला उठाया गया तो डीएम ने नाराजगी जताई। यह भी कहा कि अधिकारी से अभद्रता स्वीकार नहीं है। इस पर रात में ही बीएसए वीपी सिंह को कार्यालय भेजकर निलंबन आदेश जारी कराया था। एसपी सतीश कुमार से संपर्क कर मुकदमा दर्ज कराए जाने के आदेश दिए थे।

शिक्षक के समर्थन में जुटे शिक्षक संगठन

शनिवार को आशुतोष कुमार पर कार्रवाई से नाराज शिक्षकों ने बड़ेल की बीआरसी पर बैठक बुलाई। इसमें कहा गया कि निलंबित किए गए शिक्षक आशुतोष कुमार खुद ही यूनाइटेड टीचर्स असोसिएशन के जिलाध्यक्ष भी हैं। यह भी कहा कि बीईओ की कार्यप्रणाली के खिलाफ मुंह खोलने के कारण उनपर बीईओ ने दुर्भावनावश यह आरोप लगाए हैं। कहा कि शिक्षक नेता आशुतोष पर दर्ज कराए गए मुकदमे को वापस लिया जाए।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो