04 January 2019

शिक्षामित्रों पर मेहरबान हुई सरकार, आज साक्ष्य सहित दें प्रत्यावेदन: लिखित परीक्षा के आवेदन में गलत प्रशिक्षण योग्यता भरने से हुए थे बाहर


 प्रयागराज : परिषदीय स्कूलों की 69 हजार सहायक अध्यापक भर्ती की लिखित परीक्षा से बाहर हुए शिक्षामित्रों के लिए बड़ी खुशखबरी है। शासन ने उन्हें परीक्षा में शामिल करने का आदेश जारी किया है। अब शिक्षामित्रों को परीक्षा संस्था ऑफलाइन प्रवेशपत्र जारी करेगी। ‘दैनिक जागरण’ ने शिक्षामित्रों की पीड़ा को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन करते समय तमाम शिक्षामित्रों ने गलत प्रशिक्षण योग्यता का कॉलम भर दिया। उन्हें दूरस्थ बीटीसी का कॉलम भरना चाहिए लेकिन, उन्होंने विशिष्ट बीटीसी का आप्शन चुना। जांच में आयुसीमा अधिक होने से उनके आवेदन निरस्त कर दिए गए। ज्ञात हो कि 16344 आवेदनपत्र निरस्त किए गए हैं। इस पर शिक्षामित्रों ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में गुहार लगाई कि वे शिक्षामित्र हैं, उनकी मानवीय भूल माफ की जाए। शिक्षामित्रों ने यह भी कहा कि यह परीक्षा सहायक अध्यापक बनने का अंतिम अवसर है इसलिए बाहर न किया जाए। बेसिक शिक्षा परिषद ने इस संबंध में शासन को पत्र भी भेजा। शासन के विशेष सचिव चंद्रशेखर ने आदेश दिया है कि ऐसे शिक्षामित्र जिनकी गलती से प्रशिक्षण योग्यता गलत हो गई है, उन्हें आयु सीमा का लाभ देते हुए प्रवेशपत्र ऑफलाइन दिए जाने की अनुमति दी जाती है।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो