14 June 2019

परिषद से जिलों तक तबादलों का खेल, रिपोर्ट तलब: एक ही डिस्पैच नंबर से किए गए कई शिक्षकों के स्थानांतरण, बेसिक शिक्षा परिषद सचिव ने 20 तक सभी बीएसए से मांगी रिपोर्ट


 प्रयागराज: एक ही डिस्पैच नंबर से जिले में कई शिक्षकों के तबादले तो एक डिस्पैच नंबर से कई जिलों में शिक्षकों का स्थानांतरण होने का मामला संज्ञान में आया है। बेसिक शिक्षा परिषद मुख्यालय से लेकर बेसिक शिक्षा अधिकारियों ने बीते वर्षो में मध्य सत्र में शिक्षकों के तबादलों का खेल खेला है। कुछ जिलों में खेल उजागर होने पर परिषद ने सभी बीएसए से रिपोर्ट मांगी है।
प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में तैनात शिक्षकों ने शिकायत की थी कि उनके जिले में मध्य सत्र में कई तबादले हुए, लेकिन उनका स्थानांतरण मध्य सत्र के नाम पर नहीं किया गया। इसकी जांच कराई गई तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। परिषद मुख्यालय के बिना आदेश के ही बीएसए ने तबादले किए तो कुछ शिक्षकों के तबादलों में एक डिस्पैच नंबर का प्रयोग कई बार किया गया। इतना ही नहीं एक ही डिस्पैच नंबर से कई जिलों में शिक्षकों को इधर से उधर किया गया है। यह स्थानांतरण जिले के अंदर ही नहीं, दूसरे जिलों में भी किए गए। परिषद सचिव रूबी सिंह का कहना है कि पिछले शैक्षिक सत्र में परिषद मुख्यालय से कोर्ट व शासन के आदेश के सिवा किसी शिक्षक का तबादला आदेश नहीं हुआ है। इसके बाद भी मुख्यालय के नाम पर जिलों में तबादले होने की सूचना मिल रही है।

सचिव ने बताया कि कुछ लोगों ने सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत भी पूछा है कि आखिर पिछले वर्षो में मध्य सत्र में जिलों में कितने तबादले किए गए। इसका ब्योरा मुख्यालय पर नहीं है। इसलिए सभी जिलों के बीएसए से 2016-17 व 2017-18 में जिले के अंदर व अंतर जिला तबादलों की सूची मांगी है। यह भी रिपोर्ट मांगी गई है कि मध्य सत्र में किसके आदेश पर तबादले किए गए हैं, उसका विस्तृत ब्योरा भेजा जाए। सचिव ने कहा कि कुछ जिलों ने रिपोर्ट भेज दी है, बाकी से 20 जून तक हर हाल में रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया है।

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु महत्वपूर्ण नोट्स और वीडियो