11 May 2020

उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ ने 69000 शिक्षक भर्ती के डबल बेंच के निर्णय के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील अभी दाखिल किया


*उत्तरप्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ ने  69000 शिक्षक भर्ती के डबल बेंच के निर्णय के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील अभी दाखिल किया।*
🙏🙏🙏🙏🙏🏆🙏🙏🙏🙏🙏
प्रदेश के समस्त शिक्षामित्र भाइयों बहनों से अपील है कि शिक्षामित्रों के मान सम्मान के लिए लड़ाई का जो निर्णय मेरे द्वारा लिया गया पूर्व में मेरे द्वारा दो पोस्ट डाला गया जिस पर आप लोगों का समर्थन मिला ।।।


उन सभी साथियों को कि जो अच्छे मार्क पाकर के उत्तीर्ण हुए हैं और इस भर्ती में सम्मिलित हो रहे हैं वह भी निराश ना हो आपके साथ आपके तमाम साथी अध्यापक बनने में सफल हो इसी कामना के साथ हम चाहेंगे कि आप हमारा सहयोग करें जहां एक साल वेट किया है एक  दो  महीने और वेट करें और धैर्य के साथ अपने भाइयों को साथ लेकर के आगे बढ़ने का काम करें।।

आपने मुझे आगे बढ़ने का साहस दिया उसी के क्रम में आज उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ माननीय सर्वोच्च न्यायालय सुप्रीम कोर्ट में 69000 भर्ती को स्टे कराने का के लिए हमने रिट फाइल कर दिया है।।

 रिट उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र एसोसिएशन के नाम से किया गया है मैं आप सब से अपेक्षा करता हूं कि आप सबका सहयोग और समर्थन मिले जिससे हम इसे स्टे करा सकें क्योंकि मुझे सरकार से लड़ना है अब यद्यपि लड़ाई नहीं लड़ी गई तो आने वाले समय निश्चित रूप से शिक्षामित्रों के साथ सरकार कोई भी कदम उठा सकती है।।

 25 जुलाई 2017 के न्याय निर्णय के अनुसार दो ही भर्ती में शिक्षामित्रों को वेटेज का लाभ देते हुए अध्यापक बनाने के लिए कहा गया था एक भर्ती 68500 की हो चुकी है दूसरी थी इसमें लगभग प्रदेश के 40000 से अधिक शिक्षामित्रों को इसका लाभ मिलना था ।।

परंतु दुर्भाग्य है कोर्ट द्वारा न तो  विज्ञप्ति के आधार पर  और ना ही पूर्व आदेश के आधार पर है 40- 45 पर आदेश किया गया।।

 उसको सीधे 60-65 कर दिया गया इसको हम क्या माने शिक्षा मित्रों के साथ अन्याय या न्याय ।।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निश्चित रूप से अन्याय हुआ है और यह मात्र टेट पास शिक्षा मित्रों की भर्ती का मैटर नहीं है इस मार्ग से तानाशाही सरकार हमारे उस मार्ग को भी बंद  करना चाहती हैं जिसमें शिक्षामित्र की पूरी व्यवस्था को ध्वस्त कर दिया जाए पर ऐसा नहीं होने दिया जाएगा पिछले 20 वर्षों से सिर्फ और सिर्फ शिक्षामित्रों का संघर्ष किया हूं शिक्षा मित्रों के साथ लडा हूं उन्हीं के लिए हम लोगों ने संगठन के रचना की और लड़ाई लड़ी हम सरकार के साथ ही तमाम मुद्दों पर हैं जहां जरूरत थी हमने सरकार का खुलकर सपोर्ट किया और इस प्रदेश में जो लोग सरकार के बहुत करीब जाने की कोशिश कर रहे हैं उनसे पहले आगे आ करके हमने सरकार को इस विषम परिस्थिति covid-19  जैसे महामारी में समर्थन किया बच्चों को घर घर जाकर पढ़ाने में मदद किया।।

 हमारे लोगों ने ड्यूटी करने का काम किया हमारे साथी गल्ला वितरण का काम करा रहे हैं हमारे साथी  कुरानटाईन सेंटर को देख रहे हैं लेकिन इसका लाभ न देते हुए सरकार ने अवसर बाद किया है ।।।

माननीय उच्च न्यायालय के निर्णय के बाद सर्वोच्च न्यायालय में  कैविएट दाखिल करके 1 सप्ताह में भर्ती करने का निर्णय लिया है।।।

 मैं आप सब से अपील करता हूं इस निर्णय के खिलाफ मैंने कहा था और आज हमने माननीय सर्वोच्च न्यायालय में फाइल कर दिया है  ।।

फाइल संख्या 739 / 2020  हो चुकी है अब आप सब के सहयोग की आवश्यकता है जितनी ताकत से आप मुझे सहयोग करेंगे उतनी मजबूत पैरवी के लिए हम कटिबद्ध होंगे पूरे सिस्टम को संचालित करने के लिए अपनी समस्त पदाधिकारियों से अपील करते हैं कि शिक्षामित्रों के स्वाभिमान को बचाना है तो एक बार आपको फिर आगे आकर के और संघर्ष में बढ़-चढ़कर हिस्सेदारी करना होगा ।।।

आप सभी को संगठित होकर लड़ना होगा मैं हाईकोर्ट में इस मुद्दे पर नहीं लड़ा लेकिन जितनी टीम लड़ रही थी जिसने भी अनुरोध किया उनको सहयोग करने की अपील की गई और सारे लोगों के अपील के साथ संघर्ष हुआ लड़ाई में जीत हार निश्चित नहीं होती परंतु योजना रचना अच्छी हो यह बात महत्वपूर्ण है ।।।

मैं इस बात को लेकर के चिंतित था हमारे तमाम साथियों व  संगठन के पदाधिकारी कई टीमों में थे लेकिन जब उस टीम के लोगों को शिक्षा मित्रों का सहयोग मिलना शुरू हुआ तो उन पदाधिकारियों को अलग कर के उन्होंने संघर्ष करने का काम किया ।।।

मैं सबको धन्यवाद देता हूं लेकिन एक बार पुनः उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ अपनी संघर्ष जिसकी पहचान है शिक्षामित्रों के सम्मान के लिए सर्वोच्च न्यायालय में लड़ने के लिए कटिबद्ध है ।।

हमारा संघर्ष आपके सहयोग पर निर्भर है आप जितनी ताकत में सहयोग करेंगे हम सफलता की ओर अग्रसर होंगे इसमें प्रदेश के समस्त शिक्षामित्रों का मान सम्मान और स्वाभिमान जुड़ा है पद भर जाएंगे  तो आगे भ और विज्ञप्ति जारी करेंगे और उसके बाद शिक्षामित्रों की आवश्यकता न महसूस करते हुए दूसरी योजना बना सकते हैं इस लिए लड़ना है भर्ती रोकना है।।।

जैसे कि पीएफ के मुद्दे पर भी सरकार शिक्षामित्रों को नजरअंदाज करते हुए अध्यादेश लाने जा रही है जबकि कोर्ट से हम सब के पक्ष में आदेश है समस्त कमिश्नरी से  हमारा आदेश हो चुका है उसको लेकर के हमें हाई कोर्ट जाना है शिक्षामित्रों की लड़ाई को अपनी लड़ाई मानकर के उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र एसोसिएशन लड़ेगा।।।

 निरंतर सहयोग आपका संघर्ष हमारा सफलता सबकी इसी आशा विश्वास के साथ पुनः आह्वान करता हूं कि आप सब को मैं अभी पेपर्स बताऊंगा जिसमें पूरे पेपर के साथ इस ग्रुप पर बोलूंगा उस पर आप पूरा पेपर भेजें और उसके सात शुल्क का भी निर्धारण किया जाएगा और अच्छे वकीलों से पैरवी करके इस मैटर को पहली प्राथमिकता है  कि स्थगन आदेश हो और फिर आगे जीत के लिए हम लोग बढ़ेंगे इसी आशा विश्वास के साथ कि आप सब हमारा सहयोग करेंगे और हम सब इस मिशन में सफल होंगे ।।
धन्यवाद
 आपका 
शिव कुमार शुक्ला
 प्रदेश अध्यक्ष 
गाज़ी इमाम आला 
प्रदेश संरक्षक
रमेश चंद्र मिश्रा 
प्रदेश कोषाध्यक्ष 
पुनीत चौधरी 
प्रदेश महामंत्री 
श्याम लाल यादव 
वरिष्ठ उपाध्यक्ष
  शिव श्याम मिश्रा
 प्रदेश प्रवक्ता

 समस्त मंडलीय जनपदीय और ब्लॉक स्तरीय पदाधिकारी गण व शिक्षामित्र भाई-बहन उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ उत्तर प्रदेश

Guruji Portal: 👇प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु नोट्स👇