17 September 2020

यातायात नियमों का पाठ पढ़ाएंगे शिक्षक, 75 जिलों के शिक्षकों का सड़क सुरक्षा प्रशिक्षण का कार्य अंतिम दौर में

स्कूलों में बच्चों को सड़क सुरक्षा नियमों की जानकारी देने के लिए शिक्षकों को ऑनलाइन तैयार किए जाने का प्रथम चरण इसी माह के अंत तक पूरा हो जाएगा। हर जिले से सौ-सौ बेसिक शिक्षक सड़क सुरक्षा की जानकारी लेकर स्कूलों में बच्चों को प्रशिक्षित करेंगे। वहीं, नवंबर माह तक माध्यमिक शिक्षकों का प्रशिक्षण पूरा कर लिया जाएगा।


सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए परिवहन विभाग ने बच्चों को शुरुआती दौर से ही प्रशिक्षित करने की तैयारियों को आगे बढ़ाया है। इसके तहत प्रथम चरण में बेसिक स्कूलों के शिक्षकों को और दूसरे चरण में माध्यमिक शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। हर जिले से सौ-सौ बेसिक शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। इसी माह के अंत तक सभी जिलों के शिक्षक बतौर मास्टर ट्रेनर तैयार हो जाएंगे। इसके बाद यह सभी प्रशिक्षित शिक्षक स्कूलों में न केवल बच्चों को सड़क सुरक्षा के नियमों के प्रति जागरूक करेंगे, बल्कि इसे विद्यार्थियों को एक पाठ के रूप में रोज पढ़ाएंगे भी। सड़क सुरक्षा को लेकर चल रही उच्चस्तरीय बैठकों के बाद ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू कर दिया गया है। दरअसल, कोरोना संक्रमण को लेकर तय गाइडलाइन के चलते सड़क सुरक्षा से जुड़े कई कार्यक्रम गति नहीं पकड़ पा रहे थे। इसे लेकर परिवहन विभाग ने शिक्षा विभाग के सहयोग से ऑनलाइन वचरुअल ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू कर सड़क सुरक्षा कार्यक्रमों को आगे बढ़ाया है। शिक्षक बतौर मास्टर ट्रेनर की भूमिका में होंगे।

बेसिक शिक्षकों के ऑनलाइन प्रशिक्षण का कार्यक्रम अंतिम दौर में पहुंच गया है। अगले माह तक वचरुअल ट्रेनिंग प्रोग्राम के माध्यम से अध्यापकों को ग्रुपों में प्रशिक्षित कर दिया जाएगा। इसके बाद यह शिक्षक अपने-अपने स्कूलों में बच्चों को यातायात नियमों का रोज पाठ पढ़ाएंगे। इससे शुरुआती दौर से ही विद्यार्थी सड़क सुरक्षा नियमों के प्रति सजग होने लगेंगे।

पुष्पसेन सत्यार्थी, उप परिवहन आयुक्त सड़क सुरक्षा

Guruji Portal: 👇प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु नोट्स👇