06 September 2020

सिद्धार्थ नगर :- शिक्षामित्रों को 'स्थायी कर, प्रशिक्षित वेतनमान दे सरकार'


नई शिक्षा नीति में शिक्षामित्रों का स्थाईकरण किया जाए, जिससे वह व उनका परिवार सही तरीके से जीवनयापन कर सके। शिक्षामित्र आज मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं।


ये बातें शनिवार को एडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजे गए ज्ञापन में प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष इंद्रजीत यादव ने कहीं। उन्होंने कहा कि शिक्षामित्र पूरी ईमानदारी से स्कूलों में अपने दायित्वों का निर्वहन करने के साथ राष्ट्रीय अथना प्रदेश के कार्यक्रमों का संचालन करने में अपनी भूमिका निभाते हैं। शिक्षामित्रों के कल्याणार्थ उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में बनी हाई पावर कमेटी को लागू किया जाए। नई शिक्षा नीति में शिक्षामित्रों का स्थाईकरण करते हुए आयु सीमा 62 साल करने के साथ 12 महीने का सेवाकाल किया जाए उन्हें प्रशिक्षित शिक्षकों की तरह वेतन दियाजाए। कहा कि समायोजन रद होने से तीन हजार शिक्षामित्रों ने जान गंवाई है उनके परिवार की रोजी, रोटी की व्यवस्था की जाए। इस दौरान अशोक मिश्र, यशवंत सिंह, अमित सिंह, मनोहर यादव, हेमंत यादव, कृष्ण गोपाल आदि मौजूद रहे।

Guruji Portal: 👇प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु नोट्स👇