08 September 2020

नई शिक्षा नीति लागू करने के लिए की जाएगी प्रभावी कार्यवाही : राज्यपाल

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि उत्तर प्रदेश व मध्यप्रदेश में नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए गम्भीरता से मंथन किया जा रहा है। दोनों प्रदेशों में गठित टास्क फोर्स निकट भविष्य में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन हेतु अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। इस पर विचार-विमर्श कर इसे लागू किए जाने की प्रभावी कार्यवाही होगी। राज्यपाल ने सोमवार को यह बात उच्चतर शिक्षा के रूपांतरण में राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 की भूमिका पर हुए राज्यपालों के सम्मेलन में कही। इसमें राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' द्वारा प्रदेश के राज्यपालों, उप राज्यपालों एवं विश्वविद्यालय के कुलपतियों के साथ की गयी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इस मुद्दे पर चर्चा की गई।  


यूपी व मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि किसी भी समाज और राष्ट्र का विकास और भविष्य उसकी उत्कृष्ट शिक्षा व्यवस्था, शिक्षा प्रणाली एवं गुणवत्ता पर निर्भर करता है। देश के उज्ज्वल भविष्य के संजोये गये सपनों को साकार करने के उद्देश्य से गहन विचार-विमर्श के बाद नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के रूप में शिक्षा के नवीन रूप का आविर्भाव हुआ है। उन्होंने कहा कि नयी शिक्षा नीति में बुनियादी शिक्षा से लेकर स्कूल-कालेजों तक सबकी पहुंच सुनिश्चित करने पर जोर दिया गया है। इस अवसर पर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री  दिनेश शर्मा, अपर मुख्य सचिव राज्यपाल  महेश कुमार गुप्ता, अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा  मोनिका एस0गर्ग तथा छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय, कानपुर की कुलपति  नीलिमा गुप्ता भी आनलाइन जुड़ी हुईं थी।