17 September 2020

डीएलएड में प्रमोट करने के निर्देश: अक्टूबर में परीक्षा की तैयारी, PNP सचिव जारी करेंगे कार्यक्रम


प्रयागराज : डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन) में प्रमोट करने व अन्य परीक्षाएं कराने का आदेश जारी हो गया है। इस संबंध में परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने प्रस्ताव भेजा था। शासन ने निदेशक राज्य शैक्षिक अनुसंधान प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) को दिशा-निर्देश जारी किया है। प्रमोट होने वालों की संख्या करीब साढ़े तीन लाख से अधिक है। अब परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी विस्तृत आदेश और परीक्षा कार्यक्रम जारी करेंगे।


डीएलएड 2018 तृतीय व चतुर्थ सेमेस्टर : डीएलएड प्रशिक्षण वर्ष 2018 में तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा के लिए अर्ह प्रशिक्षुओं के प्रथम व द्वितीय सेमेस्टर के सभी विषयों में हों, के औसत अंक के समान अंक देते हुए उनको तृतीय सेमेस्टर में प्रमोट किया जाएगा। प्रमोट सभी प्रशिक्षुओं की चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा अक्टूबर में कराई जाएगी।

डिप्लोमा इन गाइडेंस साइकोलॉजी परीक्षा

डिप्लोमा इन गाइडेंस साइकोलॉजी परीक्षा मई में होनी थी। इस प्रशिक्षण में प्रशिक्षुओं की संख्या बहुत कम है। अब यह परीक्षाएं कराई जा सकती हैं।

परीक्षाओं में कोविड-19 का पालन करने का निर्देश

संयुक्त सचिव राजेंद्र सिंह की ओर जारी निर्देश में कहा गया है कि अब यह परीक्षाएं शारीरिक दूरी का पालन करते हुए कराई जा सकती हैं।

डीएलएड 2019 प्रथम व द्वितीय सेमेस्टर

डीएलएड 2019 प्रथम सेमेस्टर के प्रशिक्षुओं को शत-प्रतिशत प्रमोट किया जाएगा। द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा अक्टूबर में कराई जाएगी। प्रशिक्षुओं को दूसरे सेमेस्टर में मिले अंक ही पहले सेमेस्टर के अंक माने जाएंगे। यह परीक्षा मार्च में प्रस्तावित थी।

एनटीटी परीक्षा 2015-16 व 2016-17

एनटीटी परीक्षा 2015-16 की द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा जनवरी-फरवरी में कराकर परिणाम घोषित हो चुका है। तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा अक्टूबर में कराई जाएगी। वहीं 2016-17 के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा अक्टूबर में कराई जाएगी।

सीटी नर्सरी परीक्षा 2015-16

सीटी नर्सरी प्रशिक्षण परीक्षा 2015-16 अप्रैल में प्रस्तावित थी। प्रयागराज में 34, आगरा में 27 सहित कुल 61 छात्रएं प्रशिक्षण ले रही हैं। यह परीक्षाएं कराने का निर्देश जारी किया।

डीपीएड प्रशिक्षण परीक्षा 2015-16

डीपीएड प्रशिक्षण 2015-16 परीक्षा अप्रैल में होनी थी। प्रशिक्षुओं की संख्या 88 है। अब यह परीक्षाएं कराई जा सकती हैं।

पुस्तकालय विज्ञान प्रमाणपत्र परीक्षा

पुस्तकालय विज्ञान प्रमाणपत्र परीक्षा अप्रैल में प्रस्तावित थी, जो कोविड-19 की वजह से नहीं हो सकी। इस प्रशिक्षण में भी प्रशिक्षुओं की संख्या बहुत कम है।

Guruji Portal: 👇प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु नोट्स👇