29 October 2020

31277 शिक्षक भर्ती: दस्तावेजों में गड़बड़ी पर फंसेंगे जांच अधिकारी, दोबारा जांचे गए हैं शैक्षिक व आरक्षण संबंधी अभिलेख अध्यापकों के शैक्षिक प्रमाणपत्रों को लेकर अधिकारी सजग

प्रयागराज : परिषदीय स्कूलों में नवनियुक्त अध्यापकों के शैक्षिक प्रमाणपत्रों को लेकर विभागीय अधिकारी सजग हैं। नए निर्देशों के अनुसार यदि इनमें कोई गड़बड़ी मिलती है तो संबंधित जांच अधिकारी कार्रवाई की जद में आएंगे। यही वजह है कि विद्यालय आवंटन से पूर्व सभी शिक्षकों के शैक्षिक प्रमाणपत्र व आरक्षण संबंधी अभिलेख दोबाय जांचे गए हैं। गुरुवार से डायट में शिक्षकों को विद्यालय आकंटन के लिए काउंसिलिंग शुरू हो रही है। परिषदीय विद्यालयों में सह्ययक अध्यापकों के 69000 पदों के सापेक्ष 31277 अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है। स्कूल शिक्षा महानिदेशक ने पिछले दिनों हुई वीडियो कांफ्रेसिंग में बीएसए संजय कुशवाहा को निर्देशित किया था कि कई अभ्यर्थियों के प्रपत्नों की जांच दोबारा कराई जाए।यदि भविष्य में गड़बड़ी मिली तो अभ्यर्थी के साथ ही तत्कालीन जाँच अधिकारी पर भी कार्रवाई जाएगी।



स्वयं उपस्थित होना होगा अभ्यर्थियों को 
बीएसए ने बताया कि काउंसिलिंग में अभ्यर्थियों को स्वयं उपस्थित होना है। कोई भी अभ्यर्थी अपने स्थान पर यदि किसी अन्य को भेजेगा तो उसे प्रक्रिया में नहीं शामिल किया जाएगा। अभ्यर्थी को स्वयं विद्यालय का विकल्प चुनना होगा। अपने साथ परिचयपत्र भी लाना होगा।


845 अभ्यर्थियों को मिला है नियुक्तिपत्र

प्रयागराज में कुल 921 अभ्यर्थियों ने काउंसिलिंग कराई है। इसमें से 845 को
ही नियुक्तिपत्र दिया गया। अन्य के दस्तावेजों में कुछ कमी पाई गई जिससे
उन्हें नियुक्तिपत्र नहीं जारी किए गए | बेसिक शिक्षाधिकारी कार्यालय में इन
दिनों सभी अधिकारी अभ्यर्थियों के अभिलेखों की जांच में लगे हैं ।इसके बाद
29 अक्टूबर व 30 अक्टूबर को विद्यालय आवंटन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।



Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more