08 October 2020

86 फीसदी स्कूलों में नहीं गणित-विज्ञान के शिक्षक, समग्र शिक्षा के तहत केंद्र को भेजी रिपोर्ट में दी जानकारी:- वर्तमान में शिक्षकों के 10341 पद हैं खाली

प्रदेश के 1108 बालक और 1186 बालिका राजकीय हाईस्कूल और इंटर कॉलेजों में 86 प्रतिशत से अधिक स्कूलों में मुख्य विषयों (हिन्दी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान ) के सभी शिक्षक नहीं हैं। यानि 86 प्रतिशत स्कूलों में एक, दो, तीन या चार मुख्य विषयों को पढ़ाने वाले शिक्षक नहीं हैं। प्रदेश सरकार की ओर से 2020-21 सत्र के लिए शिक्षा मंत्रालय को समग्र शिक्षा की जो रिपोर्ट भेजी गई थी, उसमें इस बात का जिक्र है कि सिर्फ 13.50 प्रतिशत स्कूलों में ही मुख्य विषयों के सभी शिक्षक मौजूद हैं। हालांकि उपमुख्यमंत्री एवं माध्यमिक शिक्षा मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा इससे इनकार कर रहे हैं। डॉ. दिनेश शर्मा के अनुसार- ऐसा नहीं है। अधिकतम 10 प्रतिशत स्कूलों में शिक्षकों की कमी है लेकिन बाकी स्कूलों में शिक्षक हैं। 




एलटी भर्ती में नहीं मिले पूरे शिक्षक: राजकीय विद्यालयों में एलटी ग्रेड शिक्षकों की कमी पूरी करने के लिए उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने 15 मार्च 2018 को 10768 पदों पर भर्ती शुरू कर दी थी। लेकिन भर्ती में कई मुख्य विषयों के पूरे शिक्षक नहीं मिले हैं।पुरुष शाखा में विज्ञान के 571 पदों में से 62 व महिला शाखा में 474 पदों के सापेक्ष महज 4 शिक्षक चयनित हुए हैं।जाहिर सी बात है कि दो साल पहले राजकीय स्कूलों में विज्ञान के 1045 शिक्षकों की कमी थी और 66 शिक्षकों के चयन के बाद वर्तमान में 979 पद खाली रह गए हैं। इसी प्रकार पुरुष शाखा में गणित के 561 पदों पर 366 व महिला शाखा में 474 पदों के सापेक्ष 32 शिक्षक मिले हैं। यहां भी 1035 पदों में से 637 खाली रह गए। पहली बार शुरू की गई कम्प्यूटर शिक्षकों की भर्ती में 1673 पदों के सापेक्ष महज 7 टीचर का चयन हुआ है।

नवनियुक्त शिक्षकों की तैनाती से छुधरेंगे हालात 
ढाई साल की प्रक्रिया के बाद एलटी ग्रेड शिक्षकों का चयन लगभग पूरा होने वाला है। 16 अक्तूबर को पदस्थान आदेश जारी होने वाला है | इसके बाद हालात में सुधार की उम्मीद जताई जा रही है। सरकार महत्वाकांक्षी जनपदों और दूरदराज के स्कूलों में प्राथमिकता के आधार पर नवनियुक्त शिक्षकों को तैनाती देने जा रही है ताकि वंचित तबके को अधिक लाभ हो सके।


वर्तमान में शिक्षकों के 10341 पद हैं खाली 
एलटी ग्रेड शिक्षकों के 10768 पदों पर भर्ती लगभग पूरी होने को है। इसके बावजूद 10 हजार से अधिक पद खाली हैं। शिक्षा निदेशालय प्रयागराज की ओर से 31 मार्च 2020 तक की भेजी गई सूचना के मुताबिक राजकीय विद्यालयों में प्रवक्ता के 5478 जबकि एलटी ग्रेड शिक्षकों के 4863 कुल 10341 पद रिक्त हैं।

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more