16 October 2020

एडेड संस्कृत स्कूलों में भी बनेंगे वचरुअल क्लास, मानदेय पर रखे जाएंगे शिक्षक

 लखनऊ : अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) संस्कृत स्कूलों में भी वचरुअल क्लास रूम बनाए जाएंगे और विद्यार्थियों को रोचक ढंग से पढ़ाया जाएगा। शिक्षकों के खाली पदों पर मानदेय पर टीचर रखे जाएंगे, ताकि विद्यार्थियों की पढ़ाई प्रभावित न हो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर माध्यमिक शिक्षा विभाग प्रस्ताव तैयार कर रहा है। स्कूलों को तकनीक से लैस किया जाएगा और विद्यार्थी कम्प्यूटर की मदद से विज्ञान व गणित का पाठ भी आसानी से समझ सकेंगे।


प्रदेश के 572 एडेड माध्यमिक संस्कृत स्कूलों में शिक्षकों के करीब 2600 पदों में से 1471 पद खाली हैं। ऐसे में प्रथमा (कक्षा आठ) से लेकर उत्तर मध्यमा द्वितीय (इंटर) तक के विद्यार्थियों की पढ़ाई प्रभावित न हो इसलिए मानदेय पर शिक्षक रखे जाएंगे। करीब 15 हजार रुपये तक मानदेय देने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। जल्द ही नियमित शिक्षकों की भर्ती के लिए विज्ञापन भी जारी किया जाएगा। फिलहाल अब माध्यमिक संस्कृत स्कूलों के कायाकल्प की तैयारी शुरू कर दी गई है।

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more