15 October 2020

नए आधार से ऑफलाइन होगा पहचान का सत्यापन, उपभोक्ताओं को कोरोना कवर को पूर्ण स्वास्थ्य बीमा में बदलने की मिलेगी सुविधा

नई दिल्ली : भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआइडीएआइ) नया आधार पीवीसी (पोलीविनाइल क्लोराइड) कार्ड जारी कर रहा है। यह कार्ड वर्तमान आधार कार्ड से अधिक सुरक्षित बताया जा रहा है। यूआइडीएआइ का दावा है कि इस कार्ड पर दिए गए क्यूआर कोड को स्कैन करके ऑफलाइन तरीके से भी पहचान का सत्यापन किया जा सकता है, लेकिन यह सत्यापन एमआधार ऐप और यूआइडीएआइ की तरफ से अधिकृत ¨वडो से ही संभव हो सकेगा।


यूआइडीएआइ की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक कोई भी व्यक्ति यूआइडीएआइ की साइट पर जाकर आधार पीवीसी कार्ड मंगाने के लिए ऑर्डर कर सकता है। स्पीड पोस्ट से यह कार्ड भेजा जाएगा। पीवीसी कार्ड के बदले सिर्फ 50 रुपये का भुगतान करना होगा। यूआइडीएआइ के मुताबिक यह कार्ड कई मायने में सुरक्षित होगा। इस कार्ड पर इसे जारी और प्रिंट करने की तारीख भी अंकित होगा। कार्ड पर होलोग्राम, घोस्ट टेक्स्ट के साथ आधार का लोगो भी होगा।

यूआइडीएआइ का दावा है कि पीवीसी आधार कार्ड की छपाई काफी बेहतर है और इसे पानी से कोई खतरा नहीं है। इसे आसानी से वैलेट में रखा जा सकता है। पीवीसी कार्ड के लिए ऑर्डर करने के पांच दिनों में कार्ड की डिलीवरी हो जाएगी।

रुपये है कीमत यूआइडीएआई जारी कर रहा है पीवीसी कार्ड
नई दिल्ली: किसी उपभोक्ता के पास कोई कोरोना इंश्योरेंस पॉलिसी है तो वह उसे अब पूर्ण हेल्थ इंश्योरेंस में बदलवा सकता है। उपभोक्ता को अन्य बीमारियों के इलाज कराने में भी मदद मिलेगी। भारतीय बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकरण ने इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। कोरोना संक्रमण के फैलाव के बाद प्रयोग के आधार पर कोरोना इंश्योरेंस पॉलिसी बेचने की इजाजत जुलाई में बीमा कंपनियों को दी गई थी। 

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more