15 October 2020

Prayagraj: 31277 शिक्षक भर्ती की काउंसिलिंग शुरू:- सहायक अध्यापक भर्ती की काउंसिलिंग गुरुवार को भी, नियुक्ति पत्र मिलेंगे 16 को

प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 31,277 सहायक अध्यापकों की नियुक्ति के लिए बुधवार को काउंसिलिंग शुरू हो गई। गुरुवार को भी जिलों में शेष अभ्यर्थी काउंसिलिंग कराएंगे। चयनितों को 16 अक्टूबर को नियुक्ति पत्र वितरित किया जाएगा। परिषदीय स्कूलों में सहायक अध्यापकों के 69000 पदों की भर्ती के पहले चरण में 31277 पदों पर नियुक्ति के लिए बुधवार से काउंसिलिंग शुरू हुई। प्रयागराज में सेंट एंथोनी को केंद्र बनाया गया है। पहले दिन सभी पुरुष अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग होनी थी।

परिषद ने शिक्षक भर्ती की अनंतिम सूची सोमवार को वेबसाइट पर जारी करके मंगलवार को जिलावार अलग करके भेजा। उन्हीं अभ्यर्थियों की जिलों में काउंसिलिंग कराई जा रही है। बड़ी संख्या में अभ्यर्थी बुधवार को ही प्रतिभाग कर चुके हैं, जो बचे हैं वे गुरुवार को काउंसिलिंग कराएंगे। परिषद सचिव प्रताप सिंह बघेल ने बताया कि अर्ह अभ्यर्थियों को बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में ही ज्वाइन कराने के निर्देश हैं। इससे पहले हर अभ्यर्थी से 100 रुपये का नोटरी शपथपत्र लिया जा रहा है कि उनकी ओर से दी गई सभी सूचनाएं सही हैं और वे अंतर जिला तबादले की मांग नहीं करेंगे।

690 अभ्यर्थियों में से 633 लोगों ने ही काउंसिलिंग कराई। सभी के शैक्षिक प्रमाणपत्रों की जांच की गई। जो अभ्यर्थी पहले दिन किन्हीं कारणों से नहीं पहुंच पाए दूसरे दिन भी उन्हें मौका दिया जाएगा। 15 अक्टूबर को महिला व दिव्यांग अभ्यर्थियों को काउंसलिंग के लिए बुलाया गया है।


खंड शिक्षाधिकारी अजरुन सिंह ने बताया कि 16 अक्टूबर को सभी अभ्यर्थियों को नियुक्तिपत्र दिया जाएगा। उसके बाद अभ्यर्थियों के प्रपत्र सत्यापन के लिए भेजे जाएंगे। तभी वेतन का भुगतान होगा।

31277 पदों में से 15933 सामान्य वर्ग के, 8513 ओबीसी, 6615 एससी व 216 एसटी के हैं चयनितों में शामिल

सेंट एंथोनी में भर्ती के लिए काउंसिलिंग के दौरान डाक्यूमेंट की जांच कराते शिक्षक’ जागरण

16 कमरों में हुई काउंसिलिंग
प्रयागराज में कुल 990 पदों पर नियुक्ति होनी है लेकिन अभी 979 पदों के लिए काउंसिलिंग कराई जा रही है। 11 पदों के लिए बाद में होगी। पहले दिन 16 कमरों में काउंसिलिंग हुई। इसकी जिम्मेदारी खंड शिक्षा अधिकारियों को विशेष रूप से दी गई थी। परिषदीय स्कूलों के शिक्षक भी सहयोग के लिए लगाए गए थे।

बेपरवाह दिखे अभ्यर्थी
कोरोना से बचाव के लिए तमाम दिशा निर्देश दिए गए थे। अभ्यर्थियों को मास्क व शारीरिक दूरी जैसे नियम का भी पालन करना था लेकिन अभ्यर्थी इसे लेकर बेपरवाह दिखे। शैक्षिक प्रमाणपत्रों की फाइल बनाने व अन्य कार्यो के दौरान वे झुंड में ही दिखाई दिए। हालांकि खंड शिक्षा अधिकारी अजरुन सिंह माइक से अभ्यर्थियों को कोविड-19 से बचाव के लिए दिशा निर्देश देते रहे।

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more