15 November 2020

योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण एलटी ग्रेड शिक्षकों के 3242 पद रह गए खाली: अब अगली भर्ती में पदों के शामिल होने की उम्मीद

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी ) को एलटी प्रेड शिक्षक भर्ती को प्रक्रिया को पूरा करने में दो साल से अधिक वक्‍त लग गया। योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण एलटी ग्रेड शिक्षक के 3242 पद रिक्त रह गए। वहीं, कला विषय में डिग्री के विवाद के कारण सैकड़ों अभ्यर्थियों को नियुक्ति फंस गए है। ऐसे में रिक्त पदों को संख्या और बढ़ सकतो है। रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आयोग अगले साल नया विज्ञापन जारी कर सकता है। अभ्यर्थी मांग कर रहे हैं कि माध्यमिक शिक्षा निदेशालय रिक्त पदों का अधियाचन आयोग को शोंघ्र भेजे। पंद्रह विषयों में एलटी ग्रेड शिक्षकों के 10768 पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा 29 जुलाई 2018 को आयोजित की गई थी। पेपर लीक मामले में हिंदी और सामाजिक विज्ञान विषय का परिणाम डेढ़ साल से अधिक समय तक फंसा रहा, जबकि अन्य बिषयों का रिजल्ट आयोग ने काफी पहले हो जागे कर दिया था। आयोग ने हिंदी और सामाजिक विज्ञान का रिजल्ट भी जारी कर दिया है। 10768 पदों में से 7526 पदों पर अभ्यर्थियों का चयन हुआ है और 3242 पद खाली रह गए हैं। 



योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण गणित, विज्ञान और कंप्यूटर विषय में बडी संख्या में पद रिक्त रह गए थे। विज्ञान बिषय में एलटी ग्रेड शिक्षक के 1045 पद थे और केवल 84 पदों पर चयन हुआ था। वहीं, गणित में 1035 पदों में से 435 पदों पर ही चयन किया गया था, जबकि कंप्यूटर विषय में 1673 पदों में मात्र 36 पदों पर हो अभ्यर्थियों का चयन हो सका था। इन सभी विषयों में योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण बड़ो संख्या में पद रिक्त रह गए थे। चयनित हुए 7526 अभ्यथियों में 3317 अभ्यर्थियों को नियुक्ति मिल चुकी है। कला और हिंदी विषय में अर्हता को लेकर विवाद है।

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more