15 November 2020

खेल होने से कभी नहीं भरते शिक्षकों के पूरे पद, देखें कब किस शिक्षक भर्ती में कितने भरे पद: माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की हर भर्ती में होता है खेल

जिला विद्यालय निरीक्षकों के खेल में प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों की शिक्षक भर्ती के पद कभी पूरे नहीं भर पाते। पिछले दो दशक में हुई भर्तियों पर गौर करें तो हर बार प्रशिक्षित स्नातक (टीजीटी ) और प्रवक्‍ता (पीजीटी ) के विज्ञापित पदों की तुलना में कम चयन हो सका है। डीआईओएस पहले तो रिक्त पदों की सूचना भेज देते हैं लेकिन उसके बाद पीछे से स्कूल प्रबंधकों से साठगांठ कर किसी न किसी बहाने पद भरने की अनुमति देते हैं और चयन बोर्ड को पत्र भेजकर सत्यापन निरस्त करने को कहते हैं। इसी का नतीजा है कि चयनित शिक्षक तैनाती के लिए अर्से तक दर-दर की ठोकरें खाते हैं। टीजीटी-पीजीटी 2016 के 125 से अधिक चयनित शिक्षकों को तैनाती नहीं मिल सकी है। समायोजन की मांग लेकर ये चयनित शिक्षक स्कूल प्रबंधक, डीआईओएस कार्यालय, शिक्षा निदेशालय से लेकर चयन बोर्ड तक भटक रहे हैं। पूर्व में सुप्रीम कोर्ट भी चयन बोर्ड को फटकार चुका है।



कब-किस भर्ती में भरे कितने पद 
2013 के टीजीटी में विज्ञापित 6028 पदों में से 4795 और पीजीटी के 1117 में से 922 पर चयन हो सका। 2011 के टीजीटी के 1479 पदों में से 1397 और पीजीटी के 393 में से 313, 2010 के टीजीटी के 5990 में से 5662 जबकि पीजीटी में 959 में से 843 पद भरे जा सके थे। टीजीटी 2004 के 3039 पदों में से 2808 और पीजीटी के 1359 पदों में से 1304 पर चयन प्रक्रिया पूरी हुई थी। 2002 के टीजीटी के 3787 पदों में से 3415 पद भरे गए थे। दो दशक में अपवाद रूप में 2010 की भर्ती रही जिसमें टीजीटी के 4038 व पीजीटी के सभी 892 पदों पर भर्ती हुई थी। 2016 की भर्ती अभी चल रही है।

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more