02 November 2020

छोटे बच्चों को स्कूल बुलाने के पक्ष में नहीं हैं प्रिसिंपल, प्रधानाचार्यों का सुझाव, दीपावली के बाद इस पर हो विचार


जूनियर हाईस्कूल तक के विद्यालयों के प्रधानाचार्य अभी कक्षा एक से आठ की पढ़ाई शुरू करने के पक्ष में नहीं हैं । उनका कहना है कि अभी इन कक्षाओं के बच्चों को स्कूल में बुलाना उचित नहीं होगा। इस संबंध में दीपावली बाद विचार किया जाय। यह राय शनिवार को क्वींस कालेज में हुई प्रधानाचार्यों की बैठक में आई थी। डीआई ओएस ने उनसे फीडबैक लिया था कि अभी छोटे बच्चों का स्कूल खोलना उचित होगा या नहीं।


ज्यादातर प्रधानाचार्यों का कहना था कि अभी कक्षा 9 से 12 तक की पढ़ाई पर विशेष ध्यान देनेकी जरूरत है। इसमें भी 10वीं और 12वीं के छात्रों की पढ़ाई महत्वपूर्ण है क्योंकि उनकी बोर्ड परीक्षाएं होनी हैं। इन्हीं कक्षाओं के बच्चों को अभी नियमित नहीं बुलाया जा रहा है। अगर छोटी कक्षाओं के भी बच्चों को स्कूल बुलाया जाएगा तो कोविड-19 की गाइडलाइन का अनुपालन कराने में समस्या आएगी। सभी बच्चों पर ध्यान दे पाना संभव नहीं होगा डीआईओएस वीपी सिंह ने प्रधानाचार्यों को आश्वस्त किया कि अभी इस बारे में कोई निर्णय नहीं हुआ है। इस संबंध में शासन के दिशा-निर्देश का पालन होगा। वहीं, कुछ निजी स्कूलों का दावा है कि दीपवाली के आसपास इस मुद्दे पर सरकार विचार कर सकती है।

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more